अब तक 2793 मामले आये सामने…राजस्थान में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या 100 पहुंची

संक्रामक इन्फ्लुएंजा से फैलने वाली बीमारी स्वाइन फ्लू कि चपेट में देश के कई राज्य आ चुके हैं। राजधानी दिल्ली में रोगियों कि संख्या जहां हज़ार पार कर चुकी हाउ। वहीं, राजस्थान में हालात और भी जायदा भयावह हो चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार राजस्थान में 1 जनवरी से 8 फ़रवरी के बीच स्वाइन फ्लू से अब तक 100 लोग अपनी जान गवा चुके हैं। जबकि रोगियों की संख्या 2,793 पहुँच चुकी है। इसके बाद पूरे राज्य में स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट पर रखा गया है।

बता दें कि स्वाइन फ्लू के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए दिल्ली सरकार ने बुधवार को एक स्वास्थ्य परामर्श जारी किया है। पंजाब में भी कई गैरसरकारी समूह लोगों में स्वाइन फ्लू से बचाओ के प्रति जागरूकता फैला रहे हैं। इसमें स्वाइन फ्लू के दौरान क्या करें और क्या नहीं करें के बारे में बताया गया है।

आमतौर पर सर्दी के मौसम में स्वाइन फ़्लू के मामले बढ़ जाते हैं और अधिकांश लोग दिसंबर और जनवरी के महीने में इस बीमारी का शिकार होते हैं। देश में सबसे ज्यादा स्वाइन फ्लू के मामले राजस्थान में सामने आये हैं। बता दें कि दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू से प्रमुख रूप से प्रभावित हैं।

स्वाइन फ्लू एक तरह का संक्रमण (Infection) से फैलने वाली बीमारी है, जो स्वाइन इन्फ्लूएंजा वायरस (SIV) के कारण होता है, बता दें कि H1N1 देश भर में काफी आम है। H1N1 वायरस तब फैलता है जब कोई व्यक्ति किसी संक्रमित व्यक्ति को छूता है, खांसी और छींक की बूंदे में हवा में फैलती हैं तो सांस लेते समय दूसरे व्यक्ति तक पहुँच जाती है।

Facebook Comments