इन 12 खिलाड़ियों का वर्ल्ड कप 2019 के लिए चुना जाना लगभग तय, बाकि 3 के लिए इनमें होगी जंग

क्रिकेट विश्वकप 2019 के शुरू होने में अब कुछ ही महीने बाकि हैं। टीम इंडिया के पास अब सिर्फ 7 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले बचे हैं, जो उसे क्रिकेट के इस महाकुंभ के शुरू होने से पहले खेलने हैं। इस वक्त सिलेक्टर्स भी विश्वकप की टीम चुनने के लिए खिलाड़ियों पर पैनी नज़र बनाए हुए हैं। 30 मई को शुरू होने जा रहे क्रिकेट विश्वकप 2019 के मुकाबले में विराट सेना की पहली भिड़ंत दक्षिण अफ्रीका से होगी। ये मुकाबला 5 जून को होगा।

आपको बता दें कि 30 जून से शुरू होकर क्रिकेट विश्वकप 14 जुलाई तक चलेगा। टीम इंडिया अपने चिर प्रतिद्विंदी पाकिस्तान से 16 जून को भिड़ेगी। टीम इंडिया विश्व कप में जब भी पाकिस्तान से भिड़ी है, उसने पाकिस्तान को पटखनी ही दी है।

क्रिकेट विश्वकप 2019 के लिए टीम इंडिया के 12 धुरंधरों के नाम सिलेक्टर्स ने लगभग फाइनल कर लिए हैं। बाकि बचे 3 स्थानों के लिए कई खिलाड़ी दावेदारी ठोक रहे हैं।

इन 12 खिलाड़ियों के नाम विश्वकप के लिए लगभग पक्के

विराट कोहली(कप्तान), रोहित शर्मा(उपकप्तान) महेंद्र सिंह धोनी, शिखर धवन, केदार जाधव, अंबति रायडु, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव।

बाकि तीन स्थानों के लिए इन खिलाड़ियों में दौड़

स्पेशलिस्ट बल्लेबाज और दूसरे विकेटकीपर के लिए दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत में कौन विश्वकप के लिए इंग्लैंड जाएगा, ये देखने वाली बात होगी। 21 साल के ऋषभ पंत चयनकर्ताओं की पहली पसंद बन सकते हैं।

बतौर बैकअप सीमर उमेश यादव, विजय शंकर और खलील अहमद इस दौड़ में शामिल हैं। कहा जा रहा है कि ये बाजी विजय शंकर अपने नाम कर सकते हैं। क्योंकि विजय यादव टीम में एक और ऑलराउंडर की भूमिका भी निभा सकते हैं।

एक अतिरिक्त ओपनर बल्लेबाज या मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज को भी टीम मैनेजमेंट विश्वकप के लिए रखने का इच्छुक है। केएल राहुल और अजिंक्य रहाणे के बीच इस जगह के लिए मुकाबला है। इन दोनों को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली घरेलू सीरीज़ और आईपीएल में प्रदर्शन के आधार पर जज किया जाएगा और बेहतर करने वाले को विश्व कप की टीम में जगह दी जाएगी।

गौर करने वाली बात ये है कि अनभुवी रवींद्र जडेजा का दावा इस दफा विश्वकप के लिए कमज़ोर नज़र आ रहा है। क्योंकि चहल और कुलदीप यादव के चलते जडेजा को विश्वकप टीम में तीसरे स्पिनर के तौर पर जगह मिलनी मुश्किल है।

Facebook Comments