एमेज़ॉन की फेस रिकॉग्निशन तकनीक कर रही है नस्लीय और लिंग भेदभाव: स्टडी

अमेरिकी यूनिवर्सिटी एमआईटी और कनाडाई यूनिवर्सिटी के अध्ययन के मुताबिक, एमेज़ॉन की फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी ‘Rekognition’ नस्ल और लिंग में भेदभाव कर रही है। बतौर अध्ययन, यह टेक्नोलॉजी विशेषतया अश्वेत त्वचा होने पर महिलाओं को पुरुष समझ लेती है। हालांकि, एमेज़ॉन ने इन परिणामों को ना स्वीकारते हुए कहा कि शोधकर्ताओं ने ‘Rekognition’ के करंट वर्ज़न का इस्तेमाल नहीं किया।

Facebook Comments