कुछ इस तरह से की थी तैयारी…प्लेटफॉर्म में सोने वाला शख्स बना IAS अफसर

दिन में मजदूरी करता था, जब थक जाता तो प्लेटफॉर्म को ही अपना घर समझकर वहीं सो जाता था। सुबह उठता जी तोड़ मेहनत करता। किसे पता था कि प्लेटफॉर्म में सोने वाला शख्स IAS अफसर बनेगा। जी हां- जिंदगी में अगर किसी ने कुछ कर गुजरने की ठान ली तो फिर उसे पूरी कायनात मंजिल तक पहुंचने से नहीं रोक सकती है। आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बताने वाले हैं जो आपको प्रेरित करेगी।

हम बात कर रहे हैं तमिलनाडु के एम शिवागुरू प्रभाकरन की। जिनकी मेहनत ने इन्हें IAS ऑफिसर बना दिया। यूपीएससी सिविल सर्विस 2017 के परीक्षा परिणाम में प्रभाकरन ने देश में 101वीं रैंक हासिल की और अधिकारी बन गए। रेलवे स्टेशन पर रात गुजारने वाले प्रभाकरन के आईएएस अफसर बनने की कहानी काफी प्रेरणादायक है, इनकी कहानी हर उस युवा को प्रेरित करती है जो जिंदगी में कुछ करना चाहते हैं।

प्रभाकरन तमिलनाडु के तंजावुर जिले के पट्युकोट्टई में मेलाओत्तान्काडू गांव के रहने वाले हैं। पिता के शराबी होने की वजह से घर की सारी जिम्मेदारी प्रभाकरन पर ही थी। घर के हालात बेहद खराब थे इसलिए इन्होंने 12वीं के बाद ही पढ़ाई छोड़ दी थी। घर की जिम्मेदारी संभालनी थी, इसलिए नौकरी शुरू की। 2 साल तक आरा मशीन में लकड़ी काटने का काम किया। खेतों में मजदूरी भी की। लाख परेशानियों के बाद भी सपनों को मरने नहीं दिया। साल 2008 में अपने छोटे भाई को अपने दम पर इंजीनियरिंग कराई। बहन की भी शादी भी की।

जिम्मेदारियां निभाने के बाद वो इंजीनियरिंग का ख्वाब लिए चेन्नई आ गए। प्रभाकरन आईआईटी से पढ़ाई करना चाहते थे। इसकी एंट्रेंस एग्जाम पास करने के लिए उन्होंने खूब मेहनत की। वो दिन में पढ़ाई करते और रातें सेंट थॉमस मांउंट रेलवे स्टेशन पर काटा करते थे। अपनी मेहनत और लगन से उन्होंने आईआईटी में दाखिला लिया और एमटेक में टॉप रैंक हासिल की। इसके बाद प्रभाकरन सिविल सर्विसेज की परीक्षा के लिए जुट गए। 101 रैंक हासिल करने वाले प्रभाकरन ने इससे पहले तीन बार कोशिश की है।

चौथी बार में प्रभाकरन को कामयाबी मिली और 990 उम्मीदवारों में उनके 101वीं रैंक आई। यूपीएससी की परीक्षा में हैदराबाद के अनुदीप डुरीशेट्टी ने टॉप किया है। वहीं हरियाणा की अनु कुमारी दूसरे और सचिन गुप्ता तीसरे नंबर पर रहे। इस कहानी से हमें ये सीख तो जरूर मिलती है कि मेहनत करना नहीं छोड़ना चाहिए। आप जी तोड़ मेहनत करें, सफलता आपके कदम जरूर चूमेगी।

Facebook Comments