घंटो कंप्यूटर चलाने से खराब होती है आंखें है एक मिथ,जानें इनका सच…कम लाइट में फोन चलाना

हमेशा ऐसा कहा जाता है कि ज्यादा कंप्यूटर, टीवी या मोबाइल चलाने से हमारी आंखे खराब हो जाती हैं। लेकिन ये बात काफी हद तक सच नहीं हैं। ऐसे ही आंखों की रोशनी से जुड़े ऐसे कई सारी बातें और चीजें हैं जिसके बारे में हमें सही तरिके से जानकारी नहीं है। इसलिए जरूरी है कि हम सही तरीके से अपनी आंखो का ध्यान रखें। जानिए आंखों और आंखों की रोशनी से जुड़ी कुछ बातों के बारे में।

ऐसा अक्सर कहा जाता है कि कई घंटो तक कंप्यूटर पर काम करने से आंखे कमजोर हो जाती हैं, और आंखों की रोशनी कम हो जाती है। लेकिन ये बात पूरी तरीके से सच नहीं है। असल में ज्यादा थकान औक तनाव के कारण आंखों की रोशनी कम होती है। इसलिए घंटो कंप्यूटर के सामने काम ना करने के लिए कहा जाता है,क्योंकि इससे आंखों पर जोर पड़ता है।

इसके अलावा कई लोगों का ये मानना होता है कि अगर उनकी आंखों की रोशनी सही है तो उन्हें आंखों की जांच करवाने की जरूरत नहीं हैं। लेकिन ऐसा नहीं है, चाहें आंखों पर चश्मा ना लगा हो,लेकिन नियमित आंखो की जांच करवाना जरूरी होता है। इसके अलावा कम रोशनी में काम करना आपकी आंखों को जल्दी थका देता है। लेकिन कम रोशनी आपकी आंखों की सेहत पर बुरा असर नहीं डालता है।

आंखों को हेल्दी रखने के लिए हमेशा सही डाइट लेना चाहिए। खाने में ज्यादा से ज्यादा प्रोटिन वाली चीजें, फल और सब्जियां खानी चाहिए। इसके अलावा सिर्फ गाजर खाने से ही नहीं बल्कि पालक, केला और शिमला मिर्च खाने से भी आंखो की रोशनी तेज होती है।

Facebook Comments