जनता को पौने पांच लाख करोड़ की मिल सकती है सौगात…योगी सरकार का सबसे बड़ा बजट आज

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आज अपना तीसरा बजट पेश करेगी। जिसमें राज्य की जनता को कई बड़ी सौगाते मिल सकती है।

योगी सरकार की तरफ से वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल गुरुवार को विधानसभा में तीसरा बजट पेश करेंगे। 2019-20 के आम बजट का आकार करीब पौने पांच लाख करोड़ रुपए के आसपास रहने का अनुमान है। चालू वित्त वर्ष की अपेक्षा बजट में करीब 14 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है।

सूत्रों ने बताया कि गुरुवार सुबह साढ़े नौ बजे मुख्यमंत्री योगी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की बैठक में बजट प्रस्तावों को मंजूरी दी जाएगी। इसके बाद वित्त मंत्री अग्रवाल 11 बजे विधानसभा में प्रदेश का अब तक का सबसे बजट पेश करेंगे। कुंभ वर्ष में पेश किए जा रहे प्रदेश के बजट का सबसे बड़ा लाभ बेटियों के हिस्से में आने की उम्मीद है।

योगी सरकार बेटियों के जन्म से पढ़ाई और बालिग होने तक आर्थिक सहायता देने वाली कन्या सुमंगल योजना का ऐलान कर सकती है। किसानों को किराए पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने और गन्ना मूल्य भुगताने के लिए बजट व्यवस्था के साथ युवाओं को जोड़ने के लिए युवक व महिला मंगल दलों के गठन व खेल प्रोत्साहन जैसी नई योजनाओं की उम्मीद है।

बजट में एक्सप्रेस वे. एयरपोर्ट व मेट्रो के साथ सिचाईं, लोक निर्माण व बिजली से जुड़ी इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास की परियोजनाओं पर फोकस बरकरार रहेगा। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे, पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के साथ गोरखपुर लिंक, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे व डिफेंस कारीडोर के लिए आवश्यक बजट इंतजाम किए जाने के संकेत है।

वित्त मंत्री प्रयाग कैबिनेट में घोषित गंगा एक्सप्रेस परियोजना का भी ऐलान कर सकते हैं। हालांकि इसके लिए बजट का इंतजाम हो पाएगा। इस पर संशय है। जेवर अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के साथ अयोध्या, सराहनपुर कुशीनगर व गाजीपुर में आरसीएम स्कीम के तहत एयरपोर्ट के लिए बजट मिलना तय माना जा रहा है।

वित्त मंत्री पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृति चिकित्सा विश्वविद्यालय की स्थापना के कार्य को रफ्तार देने के साथ अलग अलग आयुष व आयुर्वेदिक चिकित्सा विश्वविद्यालयों का ऐलान कर सकते हैं। अयोध्या में भगवान श्रीराम की विशालतम मूर्ति स्थापित करने के लिए स्थल विकास के साथ भगवान श्रीराम के नाम स्थापित होने वाले एयरपोर्ट का काम भी रफ्तार पाएगा।

Facebook Comments