जाने कैसे करें यूरिक एसिड का स्तर कम

यूरिक एसिड क्या है, कैसे यूरिक एसिड के मामलों की पहचान की जा सकती है. यूरिक एसिड के लिए एक्सरसाइज, यूरिक एसिड के लिए टेबलेट्स या मेडिसिन, यूरिक एसिड के टेस्ट, यूरिक एसिड में व्यायाम, यूरिक एसिड में दूध पीएं या नहीं, यूरिक एसिड की रामबाण दवा और यूरिक एसिड में अखरोट खाना फायदेमंद है या नहीं यह सब सवाल अक्सर पूछे जाते हैं. लेकिन सबसे पहले यह समझ लेना जरूरी है कि यूरिक एसिड क्या है. असल में यूरिक एसिड एक तरह का एसिड है, जो कि एक लाइफस्टाइल से संबंधी रोग है. शरीर में बढ़े यूरिए एसिड के लिए कई घरेलू नुस्खों को अपनाया जाता है. जो आपके आहार में बदलाव से जुड़े होते हैं. यूरिक एसिड बढ़ने के बाद आपके अपने आहार में कुछ बातों का ध्यान रखना होता है. कई चीजें बढ़े यूरिक एसिड के स्तर में नहीं खानी चाहिए. शरीर में प्‍यूरिन के टूटने से यूरिक एसिड बनने लगता है. प्‍यूरिन खाने की चीजों में पाया जाता है. खाने के जरिए यह शरीर में पहुंचता है और फिर खून के जरिए किडनी तक. आम तौर पर यह मूत्र के जिरए शरीर से बाहर निकल जाता है. लेकिन कई बार ऐसा नहीं हो पाता, जिससे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है. यह आपको ताउम्र परेशान कर सकता है और गढ़िया जैसे रोगों को पैदा कर सकता है. जरूरी है कि यह भी जान लिया जाए कि यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण क्या होते हैं. पैरों में दर्द, जोड़ों में दर्द, एड़ियों में दर्द महसूस होने के अलावा इसमें गांठों में सूजन भी हो सकती है. इसके अलावा ज्यादा देर तक बैठने या उठने पर एड़ियों में दर्द होता है. यह दर्द कई बार बहुत ज्यादा और असहनिय हो सकता है. यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षणों में शुगर लेवल का बढ़ना भी एक है.

Facebook Comments