ट्रेन 18 से होगा वंदे भारत एक्सप्रेस, भारत की सबसे तेज ट्रेन का नाम बदलेगी मोदी सरकार

मोदी सरकार मेक इन इंडिया पहल के तहत बनी भारत की सबसे तेज रफ्तार से चलने वाली ट्रेन, ट्रेन 18 का नाम बदलने वाली है।

भारत की सबसे तेज रफ्तार वाली ट्रेन ट्रेन 18 का नाम बदलने वाला है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक देश की सबसे तेज ट्रेन का नाम अब वंदे भारत एक्सप्रेस होगा। यह ट्रेन दिल्ली से बनारस के बीच चलेगी।

हाल ही में इस हाइस्पीड ट्रेन के संचालन को हरी झंडी दिखाई गई है। अब जल्द ही प्रधानमंत्री मोदी के हरी झंडी दिखाने के बाद यह ट्रेन पटरियों पर दौड़ती दिखाई देगी। वाराणसी से नई दिल्ली के बीच चलने वाली इस ट्रेन का किराया अन्य ट्रेनों से कही ज्यादा होगा।

भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली इस ट्रेन का किराया शताब्दी एक्सप्रेस के किराए से करीब 40 से 50 फीसदी से ज्यादा होगा। इस ट्रेन एग्जिक्यूटिव क्लास के टिकट के लिए यात्री को 2800 से 2900 रुपए तक देना होगा। वहीं चेयर कार किराया भी 1600 से 1700 रुपए के बीच निर्धारित किया जा सकता है।

किराए के साथ गति के मामले में भी यह ट्रेन सभी ट्रेनों को काफी पीछे छोड़ रही है। आठ घंटे में 755 किलोमीटर का सफर करने वाली यह ट्रेन कानपुर और प्रयागराज होते हुए गुजरेगी। दिल्ली से वाराणसी के बीच इस ट्रेन के सिर्फ यही दो स्टॉपेज होंगे। फिलहाल इतनी दूरी तय करने में मौजूदा सबसे तेज ट्रेन को करीब 11 घंटो का समय लगता है।

Facebook Comments