तिरंगा लेकर उमड़ा जनसैलाब…ढाई साल के बच्चे ने शहीद प‍िता को अपने नन्हें हाथों से दी मुखाग्न‍ि

 जैसे-जैसे श’हीदों के श’व उनके घर पहुंच रहे हैं, वहां गमगीन माहौल नजर आ रहा है। हर किसी की आंखों में आंसुओं का सैलाब उमड़ पड़ा है। उत्तराखंड के ऊधमस‍िंह नगर के रहने वाले श’हीद वीरेंद्र सिंह राणा का पार्थिव शरीर देश उस वक्त सबकी आंखें नम हो गईं, जब पिता को ढाई साल के बच्चे ने अपने नन्हें हाथों से मुखाग्नि दी। जिस उम्र में अपने पिता का हाथ थामकर चलना था, उस उम्र में इस मासूम के सिर से पिता का साया उठ गया।

नगर के रहने वाले शहीद वीरेंद्र सिंह राणा का पार्थिव शरीर खटीमा पहुंचा। वीरेंद्र सिंह का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचते ही श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लग गया। अंतिम विदाई देने आए लोगों ने तिरंगा लेकर सम्मान से अंतिम विदाई दी। राजकीय सम्मान के साथ शही’द वीरेंद्र सिंह को अंतिम विदाई दी गई। केंद्रीय कपड़ा मंत्री अजय टम्टा, उत्तराखण्ड के परिवहन मंत्री यशपाल आर्य, विधायक पुष्कर सिंह धामी ने श’हीद के पार्थिव शरीर को कंधा दिया।

पुलवामा में शहीद हुए वीरेंद्र सिंह राणा सीआरपीएफ की 45वीं बटालियन में सिपाही थे। खटीमा के मोहम्मदपुर भूरिया गांव के रहने वाले शहीद के घर में जैसे ही देर रात उनके शहीद होने की खबर मिली घर में मातम पसर गया। पत्नी तो बेसुध हो गई। पुल‍वामा में आ’तंकी हमले में 40 जवान श’हीद हो गए। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के महाराजगंज के रहने वाले शहीद सीआरपीएफ जवान पंकज त्रिपाठी का शव घर पंहुचा तो उनके गांव हरपुर बेलहिया में हजारों की संख्या में गांववाले मौजूद थे। रोते बिलखते ग्रामीणों ने शहीद के शव का सम्मान क‍िया। श’व के साथ प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री समेत पूरा जिला प्रशासन था।

उत्तर प्रदेश में प्रयागराज के मेजा इलाके में श’हीद महेश यादव के गांव में नाराज लोगों ने जाम लगा दिया। नाराज लोगों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। राजस्थान के कोटा में श’हीद हेमराज मीणा का पार्थिव शरीर पहुंचा। हेमराज मीणा को श्रद्धांजलि देने को पूरा कोटा शहर उमड़ पड़ा। शहीद हेमराज मीणा कोटा जिले के सांगोद कस्बे के विनोद खुर्द गांव के रहने वाले थे, वहीं अंतिम संस्कार किया गया।

Facebook Comments