प्रदर्शनकारियों को ट्रेनों में भरकर दिल्ली लायेंगे नायडू…बीजेपी को घेरने के लिए TDP ने कसी कमर

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू की आंध्र प्रदेश के विशेष दर्जा की मांग को लेकर 11 फरवरी को नई दिल्ली में धरना-प्रदर्शन की योजना बना रहे हैं। उन्होंने सभी से अपने विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने की अपील की है। विरोध प्रदर्शन में कई राष्ट्रीय पार्टियों के नेताओं के शामिल होने का दावा करते हुए नायडू ने राज्य की विपक्षी पार्टी को भी इसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित किया। इस संबंध में आंध्रप्रदेश से प्रदर्शनकारियों को दिल्ली लाने के लिए 2 ट्रेनों को किराये पर लिया गया है।

2014 में आंध्र के बंटवारे के समय किए गए वादों को पूरा करने में असफल रहने और राज्य को तत्काल विशेष दर्जा न दिये जाने को लेकर चंद्रबाबू नायडू ने मोदी सरकार पर धोखा देने का आरोप लगाया है। आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने के समझौते से केंद्र सरकार के इनकार के बाद टीडीपी, बीजेपी की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार से अलग हो गई।

चंद्रबाबू ने शुक्रवार को संसद में मोदी द्वारा विपक्षी गठबंधन को महामिलावट कहने पर कड़ी आपत्ति जाहिर की। नायडू बीजेपी विरोधी मोर्चा बनाने की कवायद में जुटे हैं। नायडू ने विपक्ष के आरोप को दोहराया कि मोदी ने देश के लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर किया है और कहा कि मोदी सरकार सभी मोर्चों पर असफल रही है।

बता दें कि बजट सत्र के दौरान नायडू ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि बीजेपी सरकार ने अपने कार्यकाल में आंध्र प्रदेश को धोखा दिया है। आंतरिक बजट का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के पास लोकसभा चुनाव से पहले अपने आखिरी बजट में भी राज्य के लिए कुछ भी नहीं है। बता दें कि आंध्र प्रदेश में टीडीपी के नेतृत्व में विभिन्न संगठनों ने केन्द्र से एपी पुनर्गठन अधिनियम, 2014 में किए गए वादों को पूरा करने और राज्य को तत्काल विशेष दर्जा दिये जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को एक राज्यव्यापी बंद का आयोजन किया।

Facebook Comments