बनी रहेगी शनिदेव की कृपा…खुल जाएगी किस्मत आज रात अपने शरीर पर बांध लें काला धागा

जैसा कि आप सब जानते हैं कि काले धागे (Black Thread) का महत्व हिंदू मान्यताओं में बहुत ही विस्तार से दिया गया है। काले धागे को किसी की भी बुरी नजर से बचाने वाला माना जाता है।

हालांकि, लोग काले धागे (Black Thread) का इस्तेमाल तो करते हैं, लेकिन कई बार सही इस्तेमाल का तरीका पता न होने की वजह से उनको फायदा नहीं होता। ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक, काला धागा वह धागा है जो इंसान को गरीबी से अमीरी के तरफ ले जा सकता है अगर इसका सही इस्तेमाल किया जाए। यदि आप भी काला धागा पहनते हैं लेकिन इसको किस तरह और कहां पहनना है ये नही जानते हैं तो आज हम आपको बताएंगे कि शरीर के कौन से अंग पर काले धागे को बांधने से आपको फायदा मिलेगा।

सबसे पहले एक काले धागे में 9 गाँठ बांध दें और शनिवार या मंगलवार के दिन आप इसे अपने दाहिने हाथ की कलाई में बांध लें। ऐसा कम से कम आप 3 से 7 हफ्ते तक लगातार बांध कर रखें और नियत ये करें कि इसके बरकत से आपकी सारी गरीबी दूर हो जाये। इसका फायदा आपको एक हफ्ते के अंदर ही दिख जाएगा। हालांकि, काला धागा बांधने का ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि आप इसे बांध कर घर में चुपचाप बैठ जाएं और पैसों की बारिश होने का इंतजार करने लगें। काला धागा आपका काम जरूर करेगा लेकिन आपको मेहनत तो करनी ही पड़ेगी। काला धागा सिर्फ उसमें बरकत करेगा जिससे आपका काम और आसान हो जाएगा।

गरीबी से मुक्ति दिलाएंगे शनिदेव

जो लोग गरीबी से मुक्ति चाहते हैं, उन्हें ज्योतिष में बताए गए उपाय करने से लाभ मिल सकता है। मान्यता है कि शनिदेव हमारे कर्मों का फल प्रदान करते हैं। कुंडली में शनि अशुभ हो तो हर शनिवार शनिदेव को तेल चढ़ाना चाहिए। यह उपाय सभी राशि के लोग कर सकते हैं। जो लोग ये उपाय नियमित रूप से करते रहते हैं, उन्हें साढ़ेसाती और ढय्या में भी शनि की कृपा प्राप्त होती है। यहां जानिए कुछ ऐसी बातें जो शनि को तेल चढ़ाते समय ध्यान रखनी चाहिए…

अगर इन बातों को ध्यान में रखते हुए शनिदेव को तेल चढ़ाया जाए तो वे जल्दी प्रसन्न होते हैं और भक्त की दुर्भाग्य से रक्षा करते हैं। शनिदेव को हमेशा लोहे के बर्तन से ही तेल चढ़ाना चाहिए। कांच, तांबा या स्टील की कटोरी से तेल चढ़ाने पर उसका पूरा लाभ नहीं मिलता।शनिदेव को जो तेल चढ़ाना है, वह पूरी तरह शुद्ध होना चाहिए। इसलिए मंदिर के बाहर से तेल खरीदने की जगह अपने घर से तेल लेकर जाएंगे तो ज्यादा शुभ रहेगा।

तेल चढ़ाने से पहले तेल में अपना चेहरा जरूर देख लेना चाहिए। ऐसा करने से शनि के सभी दोषों से मुक्ति मिल सकती है। शनि देव को तेल चढ़ाते समय शनिदेव के पैरों के दर्शन करना चाहिए। भगवान के पैरों के दर्शन करते हुए तेल अर्पित करना बहुत शुभ माना जाता है। शनिदेव को तेल अर्पित करने के साथ ही अपनी इच्छा अनुसार धन का दान भी करना चाहिए। ये दान आप शनि मंदिर में या किसी जरूरतमंद व्यक्ति को कर सकते हैं।

Facebook Comments