सरकार का धोखा पिछले साल के बाढ़ पीडितों को अभी तक नहीं मिला मुआवजा

बिहार में एक बार फिर से बारिश के बाद बाढ़ आने की चिंता लोगों के माथे पर साफ-साफ दिखाई पड़ती है. पिछले साल आई बाढ़ का मुआवजा अभी तक किसी को मिला नहीं है और इस बार फिर से लाखों लोग बारिश के कारण अपने घर खाली करने को मजबूर है.

बता दें, बिहार में एक बार फिर से कई नदियां उफान पर है. वहीं बीते साल की अगर बात की जाए तो यहाँ पर करीब 17 जिलों में बाढ़ के असर देखने को मिले थे. इस बाढ़ से करीब 1.71 करोड़ लोग प्रभावित हुए थे. साथ ही 8.5 लाख लोगों के घर टूट गए थे और 8 लाख एकड़ की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई थी.

इस बारे में जब 38 वर्षीय मुकेश से बात की तो उन्होंने बताया कि “बूढ़ी गंडक नदी की ओर देख कर ही अब डर लगता है. बूढ़ी गंडक इस बार भी उफान पर है. नदी के एक बार फिर से उफान पर आने के कारण मुकेश सहित हजारों लोगों ने अपना घर खाली कर दिया है, वहीं कई लोग नदी के पास से अपने घर खाली करने की तैयारी कर रहे है. ऐसी हालातों में जिंदगी जीने वाले इन परिवारों को सरकार की तरह से कोई मुआवजा नहीं मिला है, वहीं बाढ़ आने के बाद आश्वासन के नाम पर कुछ नेता लोग हेलीकाप्टर से हालातों का जायजा ले लेंगे. काश सफ़ेद कपड़ों वाले ये लुटेरे इन गरीबों की जिंदगी में झांक कर देखते.

 

Facebook Comments