कभी एक शॉपकीपर से की थी इस शख्स ने शुरुआत, आज हैं इतने करोड़ के मालिक की खुद नहीं पता

उनके पिता रेलवे में मजदूरी किया करते थे। पिता की नौकरी की वजह से उन्हें 14 साल की उम्र में स्कूल छोड़कर मजबूरन नौकरी करनी पड़ी।
इंटरनेशनल क्लोथिंग ब्रांड जारा युवाओं के पसंदीदा ब्रांड्स में से एक है। इसके कपड़े काफी हटकर होते हैं और हमेशा लोगों का ध्यान अपनी ओर खिंचते हैं। लोगों का स्टेटस सिंबल बन चुका है ZARA। अगर अच्छा कमाते हैं और आपके पास दिखावा करने के लिए पैसा है तो आप ZARA को ही पसंद करेंगे।

लेकिन क्या कभी सोचा है कि आखिर ऐसा क्या है जो इस ब्रांड को इतना खास बनाता है। आखिर आया कहां से ये ब्रांड। तो चलिए आज जान ही लिजिए अपने इस फेनरेट ब्रांड के बारे में। साल 1975 में ऑर्टेगा ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर जारा ब्रांड की शुरुआत की थी।

ऑर्टेगा को पहले जोरबा नाम पसंद था, लेकिन यह नाम पहले से रजिस्टर होने की वजह से वो यह नाम नहीं ले पाए। इसके बाद उन्होंने अपनी कंपनी का नाम ZARA रख दिया था।

ऑर्टेगा का जन्म स्पेन में हुआ है, वह 4 भाई-बहनों में सबसे छोटे थे। उनके पिता रेलवे में मजदूरी किया करते थे। पिता की नौकरी की वजह से उन्हें 14 साल की उम्र में स्कूल छोड़कर मजबूरन नौकरी करनी पड़ी। उन्हें शुरुआत में लोकल शर्टमेकर के स्टोर में जॉब मिली, जिसके बाद फैशन और क्लोदिंग इंडस्ट्री में ऑर्टेगा ने मजबूत पकड़ बनाली। फिर वहां उन्हें स्टोर कीपर बना दिया गया।

उनकी सादगी का अंदाज़ इस बात से लगाया जा सकता है कि एक सफल बिजनेस होने के बाद भी 1999 से पहले ऑर्टेगा की मीडिया में एक भी तस्‍वीर नहीं छपी थी। वह जारा को शुरू करने के बाद भी 25 साल तक मीडिया से दूर रहे। यूरोप के सबसे अमीर शख्‍स की लिस्ट में वे शामिल हैं।

Facebook Comments