डॉन ब्राडमैन का ये बड़ा रिर्काड तोड़ने से महज अब दो जीत दूर हैं कोहली

पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के ट्रेंट ब्रिज में खेले गए तीसरे मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को 203 रन से हरा कर शानदार वापसी की है। गौरतलब है कि भारत को एजबैस्टन और लॉर्ड्स में खेले गए टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबलों में क्रमश: 31 और पारी तथा 159 रन से करारी हार का सामना करना पड़ा था। इसके साथ ही विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया के पास अब एक 82 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी करने का मौका है। वह रिकॉर्ड है पांच टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 से पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए 3-2 से जीत हासिल करना।

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ आॅस्ट्रेलिया ही कर सका है यह कारनामा
विश्व क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया ही एकमात्र ऐसी टीम रही है, जिसने साल 1936-37 में सर डॉन ब्रैडमैन की अगुवाई में इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बाद 3-2 से जीत दर्ज की थी। विराट कोहली की टीम अगर साउथैम्प्टन और द ओवल में होने वाले अगले दो टेस्ट मैचों में इंग्लैंड को हराती है तो वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली विश्व क्रिकेट की दूसरी टीम हो जाएगी और विवराट कोहली सर डॉन ब्रैडमैन के बाद यह कारनामा करने वाले दूसरे कप्तान। तब डॉन ब्रैडमैन ने भी आॅस्ट्रेलिया का आगे बढ़कर नेतृत्व किया था और विराट कोहली भी इस टेस्ट सीरीज में एक कप्तान की भूमिका बखूबी निभा रहे हैं।

डॉन ब्रैडमैन की तरह ही कप्तान की भूमिका निभा रहे हैं विराट कोहली
साल 1936-37 की इस एशेज टेस्ट सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बाद तत्कालीन आॅस्ट्रेलियाई कप्तान डॉन ब्रैडमैन ने मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में 270 रनों की शानदार पारी खेली थी। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 365 रन से हराया था। सीरीज के अगले दो टेस्ट मैचों में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को एडिलेड में 148 रन से और फिर मेलबर्न में 200 रन से हराते हुए सीरीज 3-2 से अपने नाम कर ली। डॉन ब्रैडमैन ने एडीलेड में 212 और मेलबर्न में 169 रन की पारियां खेलीं। विराट कोहली भी इंग्लैंड के खिलाफ वर्तमान टेस्ट सीरीज के तीन मैचों में अब तक 440 रन बना चुके हैं। जिसमें दो शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं।

Facebook Comments