दिनभर में 4-5 घंटे रहते हैं AC में तो हो जाइए सावधान….

आजकर घर, ऑफिस, कार हो या फिर किसी रेस्टोरेंट हर जगह ऐसी रहता है और इसके बिना तो जैसे बैठ पाना ही मुश्किल लगता है। पुरानी जनरेशन भले ही इसकी आदी न हुई हो लेकिन आज की जनरेशन और भावी पीढ़ियों को देखकर लगता है कि एसी के बिना तो एक सेकंड नहीं रह सकते।

लेकिन गर्मी से राहत दिलाने वाला एसी सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है। यह आदत सेहत पर कई तरह के नकारात्मक असर डालती है। शोध भी बताते हैं कि एयर कंडीशनर एक आर्टिफिशियल टेम्प्रेचर बनाता है, जिसका बॉडी फंक्शन्स पर बुरा असर पड़ता है।

यहां बिलकुल इस्तेमाल को लेकर कोई मनाही नहीं है लेकिन इसका कम से कम इस्तेमाल ही बेहतर है। अगर कोई शख्स किसी पुरानी बीमारी से ग्रस्त है तो एसी उसके लिए नुकसानदेह हो सकता है क्योंकि एसी में लो ब्लड प्रेशर और आर्थराइटिस के लक्षण बढ़ जाते हैं।

आइए यहां जाने ज्यादा एसी का इस्तेमाल किस तरह से नुकसानदायक हो सकता है।

– जैसा कि बताया गया कि ज्यादा देर तक एसी में बैठने से रक्तचाप की समस्याएं हो सकती हैं। ज्यादा देर तक एसी में रहने से लो ब्लडप्रेशर की समस्या हो सकती है। दमा के मरीजों को एसी की आदत नहीं डालना चाहिए।

– जो लोग एसी कमरों में ज्यादा से ज्यादा समय तक रहने की आदत डाल लेते हैं, उनमें गर्मी के प्रति सहनशीलता कम होती है। ज्यादा वक्त तक कम तापमान में रहने के बाद उनके शरीर को गर्म तापमान के साथ एडजस्ट करने में बहुत मुश्किल आती है।

– एसी चलाने पर जो ठंडक होती है, उससे शरीर का पसीना सूख जाता है। लेकिन एसी कमरे के साथ-साथ शरीर की भी नमी खींच लेता है। नमी के कम होने से शरीर में पानी की कमी होने लगती है और इससे त्वचा पर झुर्रियां दिखने लगती हैं।

– गर्मी, सर्दी हो या बारिश जिन्हें एक बार एसी की आदत पड़ जाए तो नुकसान होता ही है। एसी में सोने के दौरान कमरे का तापमान कई बार बेहद कम हो जाता है। ऐसे में शरीर काफी ठंडा हो जाता है और हमें अंदाजा भी नहीं होता है। इसी ठंड के कारण शरीर में हड्डियों से जुड़ी दिक्कतें शुरू होती हैं और यही समस्याएं बीमारियों का रूप ले लेती हैं। ज्यादा एसी में रहने से जोड़ों के दर्द की समस्या होने लगती है।

– ज्यादा एसी में रहना दिमाग के लिए भी अच्छा नहीं है। एसी तापमान को कम कर देता है, जिससे दिमाग की कोशिकाएं भी संकुचित होती हैं और यह दिमाग की क्षमता और क्रियाशीलता प्रभावित करता है।

– आपको यह जानकर हैरानी होगी कि एसी के ज्यादा इस्तेमाल से मोटापा बढ़ता है। इसका कारण यह है कि जब हम लगातार ठंडी जगह में रहते हैं, तो शरीर की ऊर्जा की खपत नहीं होती, जो शरीर की चर्बी बढ़ने का काम करता है।

– एयर कंडीशनर फिल्टर के गंदे होने पर सांस की परेशानी भी हो सकती है। इससे गले में खराश और छींक की समस्या हो जाती है।

– इन दिक्कतों के साथ बुखार और न्यूमोनिया जैसी बीमारी होने की आंशका रहती है।

Facebook Comments