गरमा गरम : इस साल ये अभिनेत्रियां दर्शकों पर नहीं छोड़ पाईं अपना असर, चौंका देंगे नाम

‘बागी-2’ में आईं दिशा पाटनी के हिस्से रोल तो ठीक-सा ही आया लेकिन वह कुछ खास असर छोड़ न सकीं। ‘रेड’ में इलियाना डिक्रूज को नायिका होने के बावजूद बस उतने ही सीन दिए गए, जितने इस कहानी में जरूरी थे।

कृति खरबंदा ‘वीरे की वेडिंग’ और ‘यमला पगला दीवाना फिर से’ में तो कुछ खास नहीं कर पाईं। अलबत्ता ‘कारवां’ के छोटे से रोल में वह काफी प्यारी और प्रभावी लगीं। ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क’ में लारा दत्ता बेअसर रहीं। ‘

फेमस’ में श्रिया शरण ज्यादा असर न छोड़ सकीं। ‘लैला मजनू’ में लैला बनीं तृप्ति डिमरी खूबसूरत तो लगीं लेकिन प्रभावशाली अभिनय न कर सकीं। ‘नमस्ते इंग्लैंड’ फिल्म ही खराब थी तो ऐसे में एक कमजोर किरदार में आईं परिणीति चोपड़ा के काम को भला कौन सराहता।

कुछ एक्ट्रेसेस ऐसी होती हैं कि उन्हें किसी भी फिल्म में ले लिया जाए, उनके रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता। ‘रेस 3’ में डेजी शाह, ‘1921’ में जरीन खान, ‘हेट स्टोरी 4’ में उर्वशी रौतेला, ‘अय्यारी’ में रकुल प्रीत सिंह।

साथ ही ‘वीरे की वेडिंग’ में युविका चौधरी, ‘नानू की जानू’ में पत्रलेखा, ‘पलटन’ में ईशा गुप्ता, मोनिका गिल, सोनल चौहान, ‘हाईजैक’ में सोनाली सहगल ऐसी ही कमजोर एक्ट्रेसेस रहीं।

Facebook Comments