जी हां आतंकी था आफरीदी का भाई, सेना ने किया था खात्मा

इस ट्वीट के बाद शाहिद अफरीदी को लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा था। आपको बता दें कि कुछ ही दिनों पहले भारतीय जवानों ने घाटी में आतंकवादियों के खिलाफ जबरदस्त कार्रवाई की थी।

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने हाल ही में ट्वीट कर विवादित बयान दिया था। अफरीदी ने ट्वीट कर कश्मीर को ‘भारत नियंत्रित कश्मीर’ कहा था। इतना ही नहीं उन्होंने कश्मीर के नागरिकों पर सेना द्वारा ज्यादती करने और मानवाधिकार का उल्लंघन करने की बात भी कही थी।

हालांकि अफरीदी के इस विवादित बयान पर भारतीय खिलाड़ियों ने उनकी जमकर क्लास लगई और उन्हें जोरदार जवाब दिया। इन सब के बीच एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है कि साल 2003 में सेना ने एक भुठभेड़ में शाकिब नाम के आतंकी के मारा था, जानकारी के मुताबिक ये आतंकी अफरीदी का कजिन भाई था। शाकिब पाकिस्तान के पेशावर का रहने वाला था। शाकिब आतंकवादी संगठन हरकर-उल-अंसार संगठन का सदस्य था।

अफरीदी ने बीते मंगलवार को लिखा था कि भारत के नियंत्रण वाले कश्मीर में स्थिति बेहद नाजुक है। शाहिद ने आगे लिखा था कि इस इलाके में आत्मरक्षा और स्वतंत्रता की बात कहने वाले लोगों के खिलाफ सुरक्षा बल ने दमनकारी रवैया अपना रखा है। उन्होंने कहा था कि यूएन जैसी संस्थाएं कहां है इस वक्त जो इस खून-खराबे को वहां रोके। इस ट्वीट के बाद शाहिद अफरीदी को लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा था। आपको बता दें कि कुछ ही दिनों पहले भारतीय जवानों ने घाटी में आतंकवादियों के खिलाफ जबरदस्त कार्रवाई की थी।

अफरीदी के ट्वीट के बाद भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने उन्हें अपने ही अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मीडिया ने हमारे कश्मीर और यूएन पर शाहिद अफरीदी के ट्वीट पर प्रतिक्रिया मांगी। कहने के लिए क्या है। अफरीदी की नजरें यूएन पर हैं जो उसकी मंदबुद्धि वाले शब्दकोश के अनुसार अंडर-19 है जो उसका आयु वर्ग है। मीडिया सहज हो सकता है क्योंकि शाहिद अफरीदी नो-बॉल पर विकेट का लुत्फ उठा रहा है।’

 

 

 

Facebook Comments