40 साल की उम्र में इस शख्स ने बनाई ऐसी चीज, जिसे देखने के लिए दूर-दूर से आने लगे इंजीनियर

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के अंजड नगर के जीतेन्द्र भार्गव नाम के एक युवक ने जुगाड़ से साइकिल को मोटरसाइकिल बना दी है, जो अंजड की सड़कों पर दौड़ती नजर आ रही है अंजड के रहने वाले भार्गव की मोटर साइकिल काफी पुरानी थी और खराब हो गई थी उसे सही कराने में 7-8 हजार रुपए का खर्च था।

इसी बीच भार्गव ने एक किसान को पावर पम्प से खेत में दवा का छिड़काव करते देखा उसने किसान से पम्प में होने वाली ईंधन की खपत और इंजन की कैपेसिटी को समझा उसके बाद उसने साइकिल के कायाकल्प का काम शुरू किया भार्गव ने उस इंजन को साइकिल में लगा दिया साइकिल में दांए हाथ के ब्रेक को एक्सेलेटर बना दिया और बाएं हाथ के ब्रेक को अगले और पिछले टायर में ब्रेक लगाने के लिए एक साथ जोड़ दिया।

यह साइकिल इको फ्रेंडली वाहन है इसकी खासियत है 33 सीसी का इंजन, जो कि 4 स्ट्रोक है1200 आरपीएम की रफ्तार पकड़ता है इसे बनाने का कुल खर्च लगभग 10 से 15 हजार रुपए है मेंटनेंस पर कोई खर्च नहीं है इससे एक लीटर पेट्रोल में 100 से 125 किलोमीटर तक जाया जा सकता है यह 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से सड़कों पर दौड़ सकती है बहरहाल जीतेंन्द्र इसे पेटेंट कराने की तैयारी में हैं।

Facebook Comments