देश की army और security को लेकर मोदी सरकार एक नया थिंकटैंक बनाने की तैयारी…..

 देश की army और security को लेकर मोदी सरकार एक नया थिंकटैंक बनाने की तैयारी कर रही है। ये थिंकटैंक राष्ट्रीय सैन्य और सुरक्षा रणनीति बनाएगा और विदेशों में खरीद एवं बिक्री के अलावा रक्षा तैयारियों को लेकर भी सलाह देगा। 

जानकारी के मुताबिक, इस उच्च स्तरीय कमेटी में पीएम के प्रधान सचिव, तीनों सेनाओं के प्रमुख, रक्षा सचिव, विदेश सचिव, इंटिग्रेटिड डिफेंस स्टाफ के चीफ और चीफ ऑफ स्टाफ कमिटी के चेयरमैन को शामिल किया जाएगा ये पैनल रक्षा सामग्री की खरीद की सिफारिशों पर विचार करेगा और यह देखेगा कि संबंधित खरीद से मौजूदा और भविष्य की परिस्थितियों में देश को कैसे लाभ मिलेगा।

बताया जा रहा है कि ये समिति कई उपसमितियों के जरिए काम करेगी, जो वरिष्ठ अधिकारियों के माध्यम से इनपुट देंगी। इसके अलावा ये समिति देश के सामने पैदा हो रहे रक्षा खतरों के संबंध में भी सरकार को अपनी राय देगी। कमिटी की ओर से इनपुट रक्षा मंत्री को मुहैया कराए जाएंगे। इससे फैसलों में तेजी आएगी और समयबद्ध तरीके से प्रक्रिया पूरी की जा सकेगी।

सरकार ने इस कमिटी का रक्षा योजना और रणनीति को समन्वित तरीके से तैयार करने और सुरक्षा प्राथमिकताओं को सरकार के समक्ष रखने के लिए तैयार किया है। बता दें कि ये समिति मंत्रालयों से संबंध बनाकर राष्ट्रीय लक्ष्यों पर भी काम करेगी। सरकार ने यह फैसला देश की डिफेंस प्लानिंग में केंद्रीकृत योजना के अभाव को ध्यान में रखते हुए लिया है। इसके जरिए सरकार नागरिक और सैन्य एजेंसियों के समन्वय के जरिए रक्षा रणनीति को तैयार करने का काम करेगी।

चूंकि बता दें कि देश के लिए रक्षा सामग्री की खरीद में काफी टाइम लग जाता है। और ये पूरी प्रक्रिया काफी लंबी और पेचीदा होती है। जिससे धन के साथ-साथ समय की भी काफी बर्बादी होती है।

 

Facebook Comments