Noida : राष्ट्रीय जूनियर प्रो कबड्डी ट्रायल के नाम पर 150 खिलाड़ियों से ठगी

राष्ट्रीय जूनियर प्रोफेशनल कबड्डी के ट्रायल के नाम पर करीब 150 खिलाड़ियों से ऑनलाइन ठगी करने का मामला सामने आया है। केबीडी जूनियर नाम की प्रतियोगिता के ट्रायल के लिए जब यूपी के विभिन्न जिलों से सोमवार को खिलाड़ी नोएडा स्टेडियम पहुंचे तब इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। ट्रायल लेने के लिए कोई भी वहां कोई भी आयोजक मौजूद नहीं था। दूर-दूर से आए इन खिलाड़ियों ने जब स्टेडियम प्रबंधन से इस बारे में बात की तो ऐसी कोई प्रतियोगिता या ट्रायल होने से उन्होंने इनकार किया। उन्होंने बताया कि ऐसे किसी आयोजन के लिए स्टेडियम की बुकिंग नहीं की गई है। स्टेडियम प्रबंधन सहित पीड़ित खिलाड़ियों ने इसकी शिकायत पुलिस से की है।

खिलाड़ियों को जारी किए गए थे एंट्री टिकट

जानकारी के अनुसार, सीनियर प्रो कबड्डी की तरह जूनियर प्रोफेशनल कब्बडी के नाम पर अंडर 15 और 17 के ट्रायल के लिए करीब 150 खिलाड़ियों को ट्रायल के लिए सोमवार को नोएडा स्टेडियम बुलाया गया था। इसमे लड़के और लड़कियां सभी शामिल हैं। इसके लिए उनसे 500-500 रुपये ऑनलाइन लिए गए थे। आयोजको ने www.kbdjunior.com नाम की वेबसाइट के द्वारा आवेदकों से ऑनलाइन ट्रायल की राशि मंगवाई थी। ऑनलाइन राशि जमा करने के बाद ट्रायल में शामिल होने के लिए खिलाड़ियों को वेबसाइट के माध्यम से एक एंट्री टिकट भी जारी किया गया, जिसके आधार पर ट्रायल में भाग लेने की बात कही गई थी। रजिस्ट्रेशन की आखिरी तिथि के बाद अब न तो वेबसाइट खुल रही है और ना ही आयोजकों के फोन नंबर लग रहे हैं। ट्रायल में हिस्सा लेने के लिए मेरठ, गाजियाबाद, सहारनपुर, बिजनौर, सहित कई जिलों के खिलाड़ियों को नोएडा बुलाया गया था। इसके लिए सभी सोमवार सुबह 8 बजे नोएडा स्टेडियम पहुंच गए थे।

पहले भी हो चुकी है ऐसी ठगी

ट्रायल में शामिल होने आए दिव्यदीप और ऋषभ ने बताया कि उन्हें प्रो कब्बडी की तरह ही जूनियर प्रो कब्बडी की टीम में शामिल होने के लिए ट्रायल देने की बात कही गई थी। इसमें एक स्पोर्ट्स चैनल के शामिल होने के बारे में भी हमें बताया गया था। पहले भी इस नाम से चंडीगढ़ सहित कई शहरों में करीब एक करोड़ की ठगी की बात सामने आ रही है।

जिला कबड्डी संघ के सदस्य अजय शर्मा ने बताया कि इस संबंध में हमें कोई जानकारी नहीं दी गई थी। वह इसकी शिकायत प्रदेश कबड्डी संघ और जिला खेल विभाग से करेंगे।

Facebook Comments