आसाराम के फैसले को लेकर यहां के रास्तों पर भी कड़े सुरक्षा इंतजाम …..

 यौन उत्पीड़न के मामले में करीब 5 साल से जेल में बंद आसाराम को लेकर कल 25 अप्रैल को कोर्ट फैसला सुनाएगा. फैसले को लेकर राजस्थान पुलिस पहले से ही सतर्क हो गई है.आसाराम के समर्थकों की भीड़ और प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए उच्च स्तरीय सतर्कता बरत रही है .इसीलिए जोधपुर में 21 अप्रैल से दस दिनों के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है. इसके अलावा पुलिस मुख्यालय से 6 कंपनियां जोधपुर को भेजी गई है.

उल्लेखनीय है कि डीजीपी ओपी गल्होत्रा ने जोधपुर में फैसला सुनाने को लेकर यहां के रास्तों पर भी कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं .बीकानेर, अजमेर और जयपुर से पुलिस की अतिरिक्त कंपनियां जोधपुर रवाना की हैं. प्रत्येक वाहन की जांच की जाकर हर गतिविधि पर पैनी निगाह रखी जा रही है. आसाराम को दोषी पाए जाने पर अधिकतम 10 साल कारावास की सजा होने का अनुमान है .इसीलिए पुलिस आसाराम के समर्थकों को लेकर बेहद सतर्क है. स्टेट इंटेलीजेंस भी जोधपुर पर नजरें गड़ाए हुए हैं.

बता दें कि आसाराम के समर्थकों के उग्र होने और राज्य के हालात बिगड़ने की आशंका को देखते हुए जोधपुर पुलिस ने कोर्ट से फैसला जेल में सुनाने का अनुरोध किया था . इस पर हाईकोर्ट ने 17 अप्रैल को जोधपुर की अदालत को जेल परिसर में ही अपना फैसला सुनाए जाने के निर्देश दिए थे .अब कल बुधवार को जेल में ही आसाराम को फैसला सुनाया जाएगा.

Facebook Comments