यह वास्तु टिप्स आपके जीवन को खुश मई बनाएगा …..

वास्तुशास्‍त्र एक व‌िज्ञान है जो द‌िशा एवं आपके आस-पास मौजूद चीजों से उत्पन्न उर्जा के प्रभाव को बताता है. वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार उर्जा अगर अनुकूल है तो आपकी प्रगत‌ि होगी और प्रत‌िकूल उर्जा होने पर परेशानी आती है और यह जीवन के हर क्षेत्र पर लागू होता है.

-वास्तु जीवन का ऐसा विज्ञान है जो इस बात पर जोर देता है कि घर-परिवार कैसे सुखी, स्वस्थ और खुशहाल हों. यह प्रकृति की ऊर्जा, संसाधन और परिवार की ऊर्जा के सही व संतुलित उपयोग के गुर सिखाता है.

 

-रात को सोते वक्त व्यक्ति का सिर हमेशा दक्षिण दिशा में होना चाहिए. कभी भी उत्तर दिशा की ओर सिर करके नहीं सोना चाहिए. इससे अनिद्रा रोग होने की संभावना होती है साथ ही व्यक्ति की पाचन शक्ति पर विपरीत असर पड़ता है.

-घर में सप्ताह में दो दफा फिटकरी और नमक के पानी से पोंछा लगाना चाहिए. इससे नकारात्मक ऊर्जा नष्ट होती है.

-घर से निकलते समय माता-पिता को विधिवत प्रणाम करना चाहिए. इससे बृहस्पति और बुध ठीक होते हैं. इससे व्यक्ति के जटिल से जटिल काम बन जाते हैं.

-विवाह पत्रिका कभी भूलकर भी न फाड़े क्योंकि इससे व्यक्ति को गुरु और मंगल का दोष लग जाता है.

-अपने घर में देवी-देवताओं की ज्यादा तस्वीरें न रखें और सोने वाले कमरे में तो बिलकुल भी नहीं.

-सोने वाले कमरे में टेलीविजन कदापि न रखें क्योंकि इससे शारीरिक क्षमताओं पर विपरीत असर पड़ता है.

Facebook Comments