CCTV में दिखा संदिग्ध, उमर खालिद पर हमला: पुलिस के हाथ लगा अहम सुराग

दिल्ली जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र नेता उमर खालिद पर हमला करने वाला शख्स सीसीटीवी में कैद हो गया है। सीसीटीवी फुटेज हमलावर का चेहरा दिखाई दे रहा है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की एक तस्वार जारी की है जिसमें शख्स कॉन्स्टिट्यूशन क्लब के पास विट्टलभाई मार्ग पर भागता दिखाई दे रहा है। उल्लेखनीय है कि उमर पर संसद भवन के पास स्थित कॉन्स्टिट्यूशन क्लब के ठीक बाहर गोली चलाई गई लेकिन छात्र बाल-बाल बच गया। पुलिस और प्रत्यक्षर्दिशयों ने कहा कि भागते समय हमलावर का हथियार वहां गिर गया। पुलिस ने हथियार जब्त कर लिया।
PunjabKesari
दिल्ली रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त अजय चौधरी ने कहा कि पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गोलियां चलाई गईं या नहीं। खालिद ने कहा कि वह चाय पीने के बाद वापस परिसर के भीतर जा रहे थे जब किसी ने उसपर गोली चलाने की कोशिश की लेकिन वह किसी तरह से बचकर वहां से भाग निकला। खालिद ने कहा कि वह हमलावर का चेहरा नहीं देख पाए। उसने कहा कि मुझे नहीं पता कि यह किसी समूह का किया हुआ है और क्या हमलावर के साथ और भी लोग थे। यह विडंबनापूर्ण है कि यह तब हुआ जब मैं भीड़ द्वारा पीट पीटकर की जा रही हत्या (मॉब लिंचिंग) के खिलाफ आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आया था।’’
PunjabKesari
खालिद ने कहा कि देश में खौफ का माहौल है। सरकार के खिलाफ बोलने पर आप पर एक ठप्पा लगा दिया जाएगा और उसके बाद आपके साथ कुछ भी हो सकता है। खालिद पहली बार 2016 में सुर्खियों में आए थे जब जेएनयू परिसर में एक कार्यक्रम के दौरान कथित रूप से राष्ट्रविरोधी नारेबाजी करने के लिए उनके और जेएनयू छात्र संघ के तत्कालीन अध्यक्ष कन्हैया कुमार एवं तीन अन्य के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था।

PunjabKesari

Facebook Comments