इस country में है मौत पर ban…..

This girl starts residing in the graveyard

नॉर्वे के द्वीप स्वालवर्ड की राजधानी लॉन्गइयरबेन के एक कस्बे में 1950 से एक कानून लागू किया गया था, जिसके तहत इस कस्बे में लोगों का मरना गैरकानूनी हैं।

नॉर्वे में तापमान काफी कम रहता है। जिसकी वजह से वहां पर दफनाएं जाने वाले शव कई सालों तक मिट्टी में नहीं मिल पाते और अगर ऐसे में किसी व्यक्ति की मौत बीमारी की वजह से हुई है।

तो ऐसे में बीमार शव मिट्टी में मिल नहीं पाता तो बीमारी के फैलने का खतरा बढ़ जाता है। इस कस्बे में साल 1918 में स्पेनिश फ्लू की वजह से मौत हो गई थी और लाखों लोगों की कब्रें बनी हुई हैं।

इस वजह से अगर किसी व्यक्ति की तबीयत बहुत खराब हो जाती है और ऐसा लगता है कि वह बच नहीं पाएगा तो उसे किसी और स्थान पर भेज दिया जाता है। ताकि उसके शव को किसी और जगह दफनाया जा सकें।

Facebook Comments