बैंक में डाले जाएंगे 1 लाख करोड़ कैश

आरबीआई मार्च में बैंकों की जरूरत पूरा करने के लिए 1 लाख करोड़ रुपए की अतिरिक्‍त लिक्विडिटी उपलब्‍ध कराएगा। RBI के अनुसार वित्‍तीय साल की क्‍लोजिंग के दौरान बैंकों की पैसों की जरूरत को पूरा करने के लिए यह किया जाएगा। इसके लिए RBI लॉन्‍ग टर्म इंस्‍ट्रूमेंट का इस्‍तेमाल करेगा।

RBI लिक्विडिटी एडजेस्‍टमेंट फैसिलिटी (LAF) के तहत यह सुविधा उपलब्‍ध कराएगा। RBI के अनुसार बैंकिंग सेक्‍टर की वर्तमान स्थिति को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। इसके लिए RBI 25 हजार करोड़ रुपए चार बार में सिस्‍टम में डालेगा।

इकरा के कार्तिक श्रीनिवासन के अनुसार आरबीआई के इस कदम से बैंकों को अपने संचालन में आसानी होगी। इकरा ने उम्‍मीद जताई है कि आरबीआई कुछ फंड मार्च 2018 के बाद भी सिस्‍टम में बनाए रख सकता है। इकरा के अनुसार इससे शार्ट टर्म रेट को संतुलन में रखने में मदद मिलेगी।

Facebook Comments