UP, बिहार, उत्तराखंड सहित इन 20 राज्यों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी

देश में सक्रिय मॉनसून अभी कुछ दिन और सक्रिय रह सकता है। मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटे में उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश समेत कई  राज्यों में मूसलाधार बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में अगले तीन दिन तक दक्षिण पश्चिम मानसून की सक्रियता को देखते हुये उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ इलाकों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की है।

मौसम विभाग के वैज्ञानिक चरण सिंह ने सोमवार को बताया कि मैदानी इलाकों में हवा के कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण दक्षिण पश्चिम मानसून अपने अंतिम चरण के दौर में इन इलाकों में सक्रिय रहेगा। इसकी वजह से उत्तराखंड और पश्चिमी एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में अगले 72 घंटे तक भारी बारिश की आशंका है। इसके अलावा मध्य प्रदेश के पश्चिमी इलाकों और पूर्वी राजस्थान में कुछ स्थानों पर अगले दो दिन तक मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की गयी है। उन्होंने बताया कि इन इलाकों में सोमवार को भी भारी बारिश का दौर जारी है।

यह स्थिति अगले दो से तीन दिन तक बरकरार रहेगी। सिंह ने बताया कि इस बाबत चेतावनी वाले तीनों राज्यों को शासन और प्रशासन के स्तर पर मौसम की संभावित स्थिति से अवगत कराते हुए सभी ऐहतियाती इंतजाम करने का परामर्श भी दिया गया है। खासकर उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश की आशंका को देखते हुये राज्य आपदा प्रबंधन को विशेष इंतजाम करने को कहा गया है। मौसम संबंधी पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को मध्य प्रदेश के उत्तर पश्चिम इलाकों में छिटपुट स्थानों पर अतिवृष्टि और हिमाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल के गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर तेज बारिश की आशंका जतायी गयी है। इसके अलावा बुधवार को उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के अलावा पूर्वोत्तर राज्यों असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ इलाकों में भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया गया है।

बिहार में भी 24 घंटे सक्रिय रहेगा मानसून

बिहार की राजधानी पटना और इसके आसपास के क्षेत्रों में रविवार से रुक-रुक कर हो रही बारिश सोमवार सुबह भी जारी है। मौसम विभाग ने अगले एक-दो दिनों में राज्य के अधिकांश इलाकों में बारिश होने की संभावना जताई है। पटना का सोमवार को न्यूनतम तापमान 25.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने अपने पूवार्नुमान में कहा है कि अगले 24 घंटे के दौरान राज्य के अधिकांश हिस्सों में बादल छाए रहेंगे और कई स्थानों पर बारिश के आसार हैं। इस दौरान तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, भागलपुर का सोमवार को न्यूनतम तापमान 26.5 डिग्री सेल्सियस, गया का 24.8 डिग्री और पूर्णिया का 26.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पटना का रविवार को अधिकतम तापमान 33.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 26.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। सोमवार को पटना का अधिकतम तापमान 32.0 डिग्री सेल्सियस के करीब रहने के आसार हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य के कई क्षेत्रों में बारिश भी दर्ज की गई है।

मध्यप्रदेश में एक दर्जन स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी

मध्यप्रदेश में मौसम को प्रभावित करने वाले छह प्रकार के सिस्टम बनने के कारण एक दर्जन से अधिक स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी मौसम विभाग ने दी है। स्थानीय मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने बताया कि भटिंडा, हिसार, अलीगढ़, सुल्तानपुर, नवादा पुरलिया और मिदनापुर से बंगाल की खाड़ी तक एक द्रोणिका जा रही है। दक्षिण उत्तर प्रदेश के मध्य भाग और उससे लगे उत्तरी मध्य प्रदेश में हवा के उतरी भाग में 5.8 किलोमीटर की उंचाई पर हवा के चक्रवात का घेरा बना हुआ है। जो दक्षिण दिशा की ओर उंचाई के साथ झुका हुआ है। इस कारण प्रदेश के कई स्थानों पर तेज बारिश होने की संभावना है।

वहीं उत्तर पूर्वी झारखंड एवं उसके आसपास हवा के उपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। इसके साथ ही एक कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में सितंबर के आसपास बनने की संभावना है। वहीं दूसरी ओर दक्षिण राजस्थान एवं उससे लगे गुजरात में चक्रवाती हवा का घेरा बना हुआ है। इस प्रकार के सिस्टम बनने से राज्य के भिंड, मुरैना, श्योपुरकला, गुना, ग्वालियर, दतिया, अशोकनगर, शिवपुरी, टीकमगढ़, छतरपुर, पन्ना, दमोह, सतना, रीवा, सीधी, सिंगरौली, शहडोल, राजगढ़, नीमच और मंदसौर में अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश होने की संभावना बनी है। विभाग के अनुसार रीवा, सागर, ग्वालियर और चंबल संभाग के जिलों के अतिरिक्त राजगढ़, नीमच एवं मंदसौर जिले में अधिकतर स्थानों पर बारिश या गरज चमक के साथ बौछारे पडने का अनुमान है। इसके अलावा जबलपुर, होशंगाबाद व शहडोल संभाग के जिलों में भी अनेक स्थानों पर बारिश हो सकती है। जबकि इंदौर, भोपाल और उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं-कहीं बारिश या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ेगी।

इन इलाकों में भी बारिश की चेतावनी

दक्षिण-पश्चिम मानसून गांगेय पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, सौराष्ट्र और कच्छ में पिछले 24 घंटे के दौरान सक्रिय रहा। पश्चिम राजस्थान, गुजरात, मराठवाड़ा, तेलंगाना, रायलसीमा, दक्षिण आंतरिक कनार्टक और केरल में मानसून कमजोर रहा।

अगले 24 घंटे में पश्चिम मध्य प्रदेश में भारी बारिश होने का अनुमान है और इसके साथ ही अंडमान-निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू, पूर्वी राजस्थान, पूर्व मध्य प्रदेश, कोंकण और मध्य महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों में तेज बारिश हो सकती है।

पिछले 24 घंटे में अरुणाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल और सिक्किम, झारखंड, बिहार, उत्तरखंड, हिमाचल प्रदेश, कोंकण, गोवा और अंडमान निकोबार द्वीप समूह, असम, मेघालय, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पश्चिम मध्य प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, सौराष्ट्र, कच्छ और तटीय कनार्टक के कई हिस्सों में बारिश हुयी। इसके अलावा नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, ओडिशा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, पूर्वी राजस्थान, गुजरात, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, दक्षिण आंतरिक कनार्टक और लक्षद्वीप के कुछ हिस्सों में तथा तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, तमिलनाडु, उत्तर आंतरिक कनार्टक और केरल के अलग-अलग हिस्सों में बारिश हुयी या फिर गरज के साथ छींटे पड़े। पश्चिम राजस्थान में मौसम शुष्क रहा।

Facebook Comments