पति से तालाक लेने के लिए पहुंची वकील के पास, भत्ता का लालच दे 5 साल तक करता रहा रेप

इसी दौरान अरविन्द कुमार नाम के वकील ने महिला को अपने जाल में फंसा, उसे मुकदमा जिताने और गुजारा भत्ता दिलवाने का झांसा दिया. वकील अरविन्द कुमार ने इस दौरान पांच साल तक बलात्कार किया.

पति से अनबन के बाद तलाक लेने पहुंची महिला के साथ उसके वकील द्वारा पांच साल तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. समाज में बदनामी का डर और गुजारा भत्ता मिलने के लालच ने उसी अभी तक तो शांत रखा, लेकिन जब महिला गर्भवती हो गई और उसने वकील से शादी करने की बात कही तो वकील मुकर गया. साथ ही महिला को फर्जी मुक़दमे में फ़साने की धमकी भी. बताया जा रहा है कि महिला वकील की शिकायत लेकर थाने भी गई लेकिन वकील का रुतबा देख पुलिस वालों ने पीड़िता को भगा दिया. एसपी अमित वर्मा की फटकार के बाद कोतवाली देहात पुलिस ने वकील के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक, पारिवारिक विवादों के चलते पति-पत्नी के बीच काफी अनबन होने लगी थी जिस वजह से पति ने महिला का साथ छोड़ दिया था. इसके बाद महिला ने गुजारा भत्ता के लिए दीवानी न्यायालय में परिवाद दायर किया. इसी दौरान अरविन्द कुमार नाम के वकील ने महिला को अपने जाल में फंसा, उसे मुकदमा जिताने और गुजारा भत्ता दिलवाने का झांसा दिया. वकील अरविन्द कुमार ने इस दौरान पांच साल तक बलात्कार किया.

जब महिला गर्भवती हो गई और वकील को शादी के लिए बोला तो उसने साफ़ इंकार कर दिया. वहीं पीड़िता को फर्जी मुकदमे में फंसाने और जान से मारने की धमकी देने लगा. इन सब से परेशान पीड़ित महिला गुरुवार को एसपी अमित वर्मा से शिकायत करने पहुंची. एसपी ने कोतवाली देहात थानाध्यक्ष मधुकांत मिश्र को तुरंत मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया. जिसके बाद मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.

Facebook Comments