# बर्थडे स्पेशल: 5 कारण जो आमिर खान को बनाता हैं बॉलीवुड का मिस्टर परफेक्शनिस्ट

आपका एक बार फिर से स्वागत है। आज हम बात करनेवाले हैं बॉलीवुड के सुपरस्टार मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान के बारे में। आमिर खान भारतीय सिनेमा जगत के दिग्गज सुपरस्टारों मे से एक माने जाते हैं। आमिर खान का पूरा नाम मोहम्मद आमिर हुसैन खान है। इनका जन्म 13 मार्च 1965 को मुंबई मे हुआ। उनके पिता नाम ताहिर हुसैन जो एक फिल्म निर्माता थे और उनकी मां का नाम जीनत हुसैन हैं। आपको बता दें उनके परिवार के कई सदस्‍य फिल्‍म इंडस्‍ट्री से जुड़े रहे हैं। आमिर के चाचा नासिर हुसैन फिल्म के निर्माता और निर्देशक भी थे।

# बर्थडे स्पेशल: 5 कारण जो आमिर खान को बनाता हैं बॉलीवुड का मिस्टर परफेक्शनिस्ट

आमिर खान के करियर की बात करें तो उन्होंने मुख्य अभिनेता के तौर पर कयामत से कयामत तक से फिल्मी करियर की शुरुआत की। जो उस साल की सबसे सुपरहिट फिल्म थी। इसके बाद उन्होंने कई फिल्में की जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर सफलता के नए पैमाने बनाए। आमिर खान भारतीय सिनेमा के उन मशहूर अभिनेताओं में से एक हैं जो कि अच्छी स्क्रिप्ट वाली फिल्मों में काम करने के लिए जाने जाते हैं, इसीलिए लोग उन्हें मिस्टर परफेक्शनिस्ट के भी नाम से जानते हैं। हिन्दी फिल्मों में उनका योगदान अद्भुत और अतुलनीय है। आइए जानते वो 5 कारण जिससे आमिर खान को हिंदी फिल्म इंडस्ट्री का मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहा जाता हैं।

1. सामाजिक यथार्थ की प्रस्तुति :

आमिर खान के फिल्मों की सबसे बड़ी खासियत यह है कि उनमें सामाजिक यथार्थ का चित्रण मिलता है। आप उनके किसी भी फिल्म पर नजर डालें। चाहे वह थ्री इडियट्स हो या पीके हो या दंगल हो या फिर तारे जमीन पर हो, उनकी फिल्मों में समाज मे फैली समस्याएं तथा उनसे जुड़े हर एक पहलुओं पर काफी बारीकी से फोकस किया होता है। साथ ही समाज में फैली बुराइयाँ और समस्याओं के सॉल्यूशन पर भी फोकस किए जाते हैं।

2. फिल्मों को शूट करने में लंबा समय लेना :

आमिर खान बॉलीवुड के ऐसे अभिनेता हैं जो अपनी फिल्म के शूटिंग के लिए लंबा समय लेते हैं। वह फिल्म के किसी भी सीन को परफेक्ट तरीक़े से शूट करना पसंद करते हैं। चाहे वह परफेक्ट शूट करने में कितना ही लंबा समय न लेना पड़े। यही कारण है कि वे एक साल या दो साल में एक से दो फिल्में ही करते हैं। आप चाहे तो उनकी फिल्मों को उठाकर देख लो, आमिर की दंगल फिल्म पीके के दो साल बाद रिलीज हुई थी।

3. बॉक्स ऑफिस के किंग :

आमिर खान बॉक्स ऑफिस के असली किंग हैं। उनकी हर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर इतना धमाल मचाती हैं कि कमाई के कई सारे रिकॉर्ड तोड़ देती हैं। जहां दूसरे स्टार साल में चार से पांच फिल्में बनाकर भी उतनी कमाई नहीं कर पाती, जितनी की आमिर खान अपनी एक ही फिल्म से कमा लेते हैं। आमिर खान ही ऐसे स्टार है जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़, 200 करोड़ और 300 करोड़ जैसे क्लब की शुरुआत की है।

4. फिल्म इंडस्ट्री की भीड़ में सबसे अलग :

आमिर खान बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के ऐसे सुपरस्टार है जो अपने परफेक्शन के लिए जाने जाते हैं। वह कभी भी किसी भीड़ का हिस्सा बनना नहीं चाहते। जहां दूसरे स्टार अवॉर्ड फंक्शन में जाते हैं, वहीं आमिर खान इन सभी फंक्शनों से दूरी बना कर रखते हैं। साथ ही उनके काम, उनकी सोच और बोलने में ही उनका फरफेक्शन झलकता है जो उन्हें दूसरों से अलग बनाता है। यही कारण है कि आमिर खान तीनों खानों मे सबसे अलग है।

5. फिल्म में अपने रोल को लेकर एक्सपेरिमेंट :

आमिर खान बॉलीवुड के ऐसे सुपरस्टार है जो हर एक फिल्म में अपने रोल को लेकर एक्सपेरिमेंट करते रहते हैं। पिछले दस सालों में आमिर खान द्वारा की गयी फिल्मों के कंटेन्ट की बात करें तो यह कहना गलत नहीं होगा कि उन्होंने अपने किरदार के लिए व्यक्तिगत स्तर पर कड़ी मेहनत की है। चाहे वह फिल्म तारे जमीन पर हो या थ्री इडियट्स या पीके हो या दंगल हो या फिर उनकी आनेवाली फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान ही क्यों न हो। उनका यही मेहनत उन्हे बॉलीवुड का मिस्टर परफेक्शनिस्ट बनाती है।

Facebook Comments