कारण जिनसे पता लगता है कि बुराड़ी नरसंहार मर्डर है सुसाइड नहीं

इन सब कारणों को देखते हुए यह कहना जल्दबाजी होगी कि परिवार के लोगों ने आत्महत्या की। खैर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही बाकी चीजों से पर्दा उठ जाएगा।

उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी के संत नगर में रविवार सुबह एक घर से संदिग्ध स्थिति में 11 शव मिलने से हड़कंप मच गया है। इनमें 7 महिलाएं और 4 पुरुष के शव हैं। बताया जा रहा है कि कुछ लोगों के हाथ पैर बंधे हुए हैं। कुछ लोगों की आंखों पर पट्टी भी बंधी हुई मिली है।

एक ही घर में 11 लोगों के शव मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है। पुलिस के मुताबिक दो परिवारों के कुल 11 लोग फांसी के फंदे पर लटके मिले। पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि मामला सामूहिक हत्या का है या लोगों ने खुदकुशी की है। पुलिस हर एंगल से इस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है।

सूत्रों के मुताबिक यह मामला सिंपल सुसाइड नही है। सवाल ये उठता है कि परिवार के 11 लोग एक साथ कैसे आत्महत्या कर सकते हैं। इन 11 लोगों में 10 लोगों की लाश चुन्नी से जाल से लटकी हुई थी जबकि बुजुर्ग महिला की लाश कमरे में मुह के बल पड़ी थी। सवाल ये उठता है कि ग्राउंड फ्लोर और पहली मंजिल का दरवाजा खुला हुआ क्यों था। अगर परिवार के सदस्यों ने सुसाइड किया तो कोई सुसाइड नोट क्यों नही मिला है। कुछ शवों के पैर जमीन पर छू रहे थे।

इन सब कारणों को देखते हुए यह कहना जल्दबाजी होगी कि परिवार के लोगों ने आत्महत्या की। खैर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही बाकी चीजों से पर्दा उठ जाएगा।

Facebook Comments