इस शख्स पर नहीं करता कोबरा का जहर भी असर…..

सांप की एक मात्रा ऐसी प्रजाति कोबरा जिसके जहर से कोई जीवित नहीं बचता पर आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिस पर कोबरा का जहर बेअसर है.

लंदन के स्टीव लुडविन सांपों के दीवाने हैं और सांपों को करीब से समझने के लिए उन्होंने  एक बार खुद के साथ एक जानलेवा प्रयोग किया. लुडविन ने करीब 30 साल पहले हरे रंग के सांप ग्रीन ट्री वाइपर का जहर निकाला और फिर उसे इंजेक्शन में भरकर अपने शरीर में चुभो दिया. धीरे धीरे उनके शरीर को जहर की आदत सी हो गई और इसके बाद लुडविन ने दुनिया के सबसे जहरीले सांपों में शुमार ब्लैक माम्बा और कोबरा का जहर भी अपने शरीर में इंजेक्ट किया.

लुडविन का दावा है कि उनका प्रतिरोधी तंत्र अब बेहद मजबूत हो चुका है और उन्हें पिछले 15 साल से जुकाम तक नहीं हुआ है लेकिन ऐसा भी नहीं है कि सब कुछ आराम से हो गया. लुडविन कहते हैं कि उनके कुछ हादसे भी हुए हैं. एक बार विष के ओवरडोज की वजह से मुझे तीन दिन आईसीयू में रहना पड़ा और यह बहुत ही खतरनाक है.

कोपेनहेगन यूनिवर्सिटी के हेल्थ और मेडिकल साइंसेस के ब्रायन लोसे कहते हैं कि जब वह जहर इंजेक्ट करते हैं तो प्रतिरोधी तंत्र प्रतिक्रिया करता है. वैज्ञानिक जानना चाहते हैं कि लुडविन की मदद से सांप के जहर के खिलाफ कारगर दवा बनाई जाए.

Facebook Comments