Breaking : औरंगजेब की हत्या मामले में सेना ने राष्ट्रीय राइफल्स के 3 जवानों को किया गिरफ्तार

 सेना के जवान औरंगजेब की ह’त्या के मामले में सेना ने राष्ट्रीय राइफल्स के तीन जवानों को गिरफ्तार किया है।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आ’तंकवादियों ने सेना के एक जवान औरंगजेब की अगवा कर उनकी बे’रहमी से ह’त्या कर दी थी। अब इस मामले में एक नया मोड़ आ गया है। आर्मी ने 44 राष्ट्रीय राइफल्स के तीन जवानों को इस मामले में कथित संलिप्तता के आरोप में हिरासत में ले लिया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इन तीनों ने औरंगजेब से जुड़ी जानकारियां आ’तंकवादियों को दी ती। इन्ही जानकारियों के आधार पर औरंगजेब को घर वक्त आ’तंकावदी अगव करने में कामयाब हुए। तीनों की पहचान आबिद वानी, तजामुल अहमद और आदिल वानी के रूप में हुई हैं। इनमें से दो पुलवामा और एक कुलगाम का रहने वाला है। इनकी भूमिका के बारे में पता चला जब औरंगजेब की ह’त्या की जांच चल रही थी।

44 राष्ट्रीय राइफल्स के जवान औरंगजेब को पिछले साल जून में आ’तंकवादियों ने उस वक्त अगवा कर लिया था जब वे ईद के लिए अुपने घर जा रहे थे। अगवा करने के बाद औरंगजेब की बे’रहमी से ह’त्या कर दी गई थी। वे मेजर रोहित शुक्ला की टीम में शामिल थे। जिस टीम ने हिज्बुल मुजाहिदीन आ’तंकी समीर टाइगर को मौ’त के घाट उतार दिया था।

जवान औरंगजेूब की ह’त्या इतनी क्रू’रता से की गई थी कि इसने सभी को चौंका दिया था और हजारों लोग उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे। उन्हें पिछले साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। दो दिन पहले ही उनके पिता जम्मू की एक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में बीजेपी में शामिल हुए थे।

Facebook Comments