98% लोग नहीं जानते है शारीरिक संबंध से जुड़ी ये सच्चाई, एक बार ज़रूर पढ़ ले

संबंध बनाना हर किसी को पसंद होता है और संबंध बनाने का सबसे अच्छा फ़ायदा ये है की संबंध बनाने से पति और पत्नी क बीच की दूरिया कम हो जाती है और दोनों के बीच में प्यार बढ़ता है. लेकिन फिर भी कई सारे लोगो के दिल में संबंध को लेकर कई सारे सवाल रहते है जिसमे से एक सवाल ये भी होता है की महिलाये कम रौशनी या अंधेरे में ही संबंध बनाना क्यों पसंद करती है. आज हम आपको इससे जुड़ी सच्चाई बताने जा रहे है की आखिर क्यों महिलाए कम रौशनी में संबंध बनाना पसंद करती है.

हाल ही में इस टोपिक को लेकर वैज्ञानिकों द्वारा एक रिसर्च की गयी है और इस रिसर्च के हिसाब से वैज्ञानिको का ये मानना है कि तेज रोशनी में सम्बन्ध बनाने से प्रेग्नेंट होने में बाधा आती है और महिलाए अपनी खुद की बात स्पष्ट रूप से नहीं कह पातीं हैं इसीलिए महिलाए कम रौशनी में संबंध बनाना ज़्यादा पसंद करती है.

दूसरा कारण यह भी बताया गया कि कंप्यूटर से निकलने वाली रौशनी और स्ट्रीट लाइट से छनकर कर आने वाली रौशनी, ये दोनों चीजे ही महिलाओ की प्रजनन क्षमता पर गहरा असर डालती है. इसके इलावा इस रिसर्च के हिसाब से ये भी पता चला है कि इस समस्या का सबसे बड़ा निशाना मध्य उम्र की महिलाएं ही बनती है।जिनकी उम्र 45-45 के मध्य होती है.

ब्रिटिश शोधकर्ताओं के अनुसार इस समस्या का महिलाओ की सेहत के साथ भी गहरा संबंध जुड़ा हुआ है. सिर्फ इतना ही नहीं इसके साथ ही एक रिसर्च में ये भी पाया गया है कि शाम के समय लाइटों को डिम कर देना चाहिए और भरपूर नींद लेनी चाहिए। रिसर्च में यह भी पाया गया कि कम रोशनी में महिलायें अपने आप को बहुत ही ज्यादा सहज समझतीं हैं और अपने पति से खुल कर प्यार सकतीं हैं. महिलाओं का स्वाभाव काफी शर्मीला होता है और वो आँखों में आंखें डालकर संबंध से संबंधित बाते खुलकर नहीं कर पातीं हैं. इन सब बातों से वैज्ञानिकों ने पुष्टि किया है कि इसीलिए महिलाओं को कम रोशनी में संबंध बनाना ज्यादा पसंद होता है.

अगर आप शारीरिक संबंध के बारे में व किसी और समस्या के बारे में कुछ पूछना चाहते है तो नीचे दिए गए फॉलो बटन पर क्लिक करके अपनी समस्या के बारे में पूछ सकते है हम आपकी समस्या का जवाब जल्द से जल्द देंगे.

Facebook Comments