कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च दौसा में…..

कठुवा में आसिफा के साथ हुई दरिन्दगी व यूपी के उन्नाव के दुष्कर्मियों पर तुरंत कार्रवाई की मांग को लेकर पीड़ित परिवारों को न्याय की मांग के लिए देश भर में न केवल विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, बल्कि गुस्सा भी उबल रहा है.कांग्रेस भी इस मुद्दे को लेकर सक्रिय है. इसी कड़ी में . दौसा में कांग्रेस के साथ स्थानीय महिला व बालिकाओं ने इंसाफ के लिए कैंडल व मशाल मार्च निकाला.

बता दें कि पूर्व मन्त्री मुरारीलाल मीना के नेतृत्व में निकाले गए इस कैंडल मार्च में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए . यह मार्च नेहरू गार्डन से गांधी तिराहेतक निकाला गया . यहां पहुंच कर गांधी जी की प्रतिमा के पास जमकर नारेबाजी की गई . पूर्व मन्त्री ने अपने भाषण में भाजपा सरकार को कोसते हुए कहा कि भाजपा की सरकारों का असली चेहरा सामने आ गया है.भाजपा को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं रह गया है.इस कैंडल मार्च में हिन्दू मुस्लिम सभी शामिल हुए.

उल्लेखनीय है कि कश्मीर के कठुआ के रासना गांव में 8 वर्षीय बालिका का अपहरण कर उसे बंधक बनाया और सात दिनों तक उसके साथ दुष्कर्मियों ने बलात्कार किया और फिर उसकी हत्या कर दी.इस मामले में पुलिसकर्मी भी शामिल पाए गए .घटना के प्रकाश में आते ही पूरे देश में आक्रोश फ़ैल गया. भाजपा -पीडीपी गठबंधन सरकार पर भी पड़ा. बीजेपी के दो मंत्रियों को इस्तीफा तक देना पड़ा.

Facebook Comments