चोरी के आरोप को बर्दाश्त नहीं कर पाया युवक,पंखे से फंदा लगाकार दी जान….

चोरी का मामला दर्ज होने से परेशान व्यक्ति ने शनिवार को पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। रिटायर्ड ब्रिगेडियर जतिद्र सिंह ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर व्यक्ति को  अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक की पहचान अमरनाथ के रूप में हुई।

पुलिस ने बताया कि अमरनाथ की पत्नी रिटायर्ड ब्रिगेडियर की कोठी में केयर टेकर का काम करती है। हालांकि पुलिस को घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। वहीं मृतक की मां रमा ने आरोप लगाया कि सैक्टर-11 निवासी एजुकेशन डिपार्टमैंट से रिटायर्ड कर्मचारी वरिंद्र गिल ने उसके बेटे पर 8 लाख के गहने चोरी करने का झूठा मामला दर्ज करवाया था। इसी कारण उसने  जान दी है।

थाना पुलिस ने मृतक की मां रमा और उसकी पत्नी के बयान दर्ज कर जांच शुरू कर दी।  रमा ने बताया कि उनकी 3 पीढिय़ां रिटायर्ड ब्रिगेडियर जतिंद्र सिंह की कोठी में केयर टेकर का काम करती हैं। अमरनाथ कोठी में पत्नी और 2 बेटियों के साथ रहता था। चोरी का मामला दर्ज होने से वह काफी परेशान चल रहा था। सैक्टर-11 थाना पुलिस उसे बार-बार पूछताछ के लिए बुला रही थी।

एजुकेशन डिपार्टमैंट से रिटायर्ड कर्मचारी वरिंद्र गिल ने अपने ड्राइवर अमरनाथ पर 4 मई को सैक्टर-11 थाने में चोरी का मामला दर्ज दर्ज करवाया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि उनके घर पर नौकर अमरनाथ ड्राइवर की नौकरी करता था। 23 अप्रैल को उसने नौकरी छोड़ दी। बाद में जब उन्होंने घर चैक किया तो मोबाइल, एक पैंडेंट, 3 गोल्ड बटन, सोने की 3 बालियां व 2 अंगूठियां गायब थीं।

 

Facebook Comments