मदरसे में 10 साल की बच्चे से गैंग रेप मामले में पीडिता का बयान आया सामने….

पीड़िता ने कहा कि मुख्य आरोपी मुझे जबरदस्ती मदरसा ले गया और उसने मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी और मेरा फोन भी छीन लिया। मदरसे के मालिक ने भी मुझे धमकाया था। मुझे जो पानी दिया गया था उसे पीकर मुझे नींद आ गई। जब सुबह मेरी आंख खुली तो मैंने पाया कि मेरे कपड़े गीले थे।

गाजियाबाद के मदरसे में 10 साल की बच्चे से गैंग रेप मामले में पीडिता का बयान सामने आया है।

इससे पहले दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के हाथ कथित नाबालिग आरोपी का आधार कार्ड लगा है। सूत्रों का कहना है कि आरोपी की सही उम्र पता लगाने के लिए कराए गए बोनी टेस्ट (बोन ऑसिफिकेशन टेस्ट) की रिपोर्ट भी आ गई है, जिसमें उसके बालिग होने की बात कही गई है।

 

आपको बता दें 10 साल की बच्ची गाजीपुर स्थित अपने घर से अचानक गायब हो गई थी। मामले की शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने बच्ची के माता-पिता के बयान और जांच के आधार पर बच्ची को गाजियाबाद के अर्थला स्थित एक मदरसे से बरामद किया था। इस संबंध में एक लड़के को गिरफ्तार किया गया था, जिसने अपनी उम्र 17 वर्ष बताई थी। मामले को तूल पकड़ता देख इसे क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया था। क्राइम ब्रांच ने मदरसे के मौलवी को भी गिरफ्तार कर रखा है।

 

Facebook Comments