लोकसभा स्पीकर के चैंबर में सांसदों का धरना

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के चैम्बर में आज (06 अप्रैल को) अजीबोगरीब हालात पैदा हो गए, जब आंध्र प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी तेलगु देशम पार्टी (टीडीपी) के सांसदों ने जमीन पर बैठकर धरना दिया।

इनमें से कुछ सांसद तो जमीन पर ही लेट गए। टीडीपी सांसद पिछले कई दिनों से लोकसभा में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग करते रहे लेकिन स्पीकर ने इसकी अनुमति नहीं दी। इससे नाराज होकर बजट सत्र के आखिरी दिन इन सांसदों ने स्पीकर के चैम्बर में घुसकर अनोखे तरीके से विरोध किया।

बता दें कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग पर टीडीपी समेत राज्य की विपक्षी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस भी विरोध-प्रदर्शन कर रही है। वाईएसआर कांग्रेस के पांच सांसदों ने आज इसी मुद्दे पर लोकसभा से इस्तीफा दे दिया। इन सांसदों ने स्पीकर से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। इसके साथ ही वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष जगनमोहन रेड्डी ने टीडीपी के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को चुनौती दी है कि वो भी अपने सांसदों को लोकसभा से इस्तीफा देने को कहें। उन्होंने एलान किया कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए उनकी पार्टी के सांसद नई दिल्ली में आंध्र भवन में अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। उन्होंने अनशन पर जाने का भी एलान किया है। वाईएसआर कांग्रेस के जिन सांसदों ने इस्तीफा दिया है उनमें वाई बी सुब्बारेड्डी, एम राजमोहन रेड्डी, वाई एस अविनाश रेड्डी, वी वारा प्रसाद रेड्डी और पीवी मिथुन रेड्डी शामिल हैं।

Facebook Comments