विवाह रेखा के माध्यम से जाने की आपकी बीवी का चरित्र कैसा है….

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार व्यक्ति की हथेली को देखकर उसके जीवन से जुड़ी सभी बातों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है. ज्योतिषशास्त्री व्यक्ति के हाथों की रेखाओं को देखकर उसके विवाह, नौकरी व सभी महत्वपूर्ण विषय की जानकारी प्रदान करते है. आज हम बात करेंगे व्यक्ति की विवाह रेखा के विषय में, जिसका संबंध व्यक्ति के विवाह से होता है, तो आइये जानते है, व्यक्ति की विवाह रेखा किस प्रकार व्यक्ति के विवाह व वैवाहिक जीवन को दर्शाती है?

1. जिस व्यक्ति के दोनों हाथों की विवाह रेखा अपने प्रारंभिक समय से ही दो भागों में विभाजित होती है, उस व्यक्ति के विवाह में कई बाधाएं उत्पन्न होती है, या फिर उसका विवाह टूट सकता है.

2. जिस स्त्री की हथेली पर विवाह रेखा के प्रारंभ में कोई द्वीप चिन्ह बना होता है, तो उस स्त्री का विवाह उसकी इच्छा के विरुद्ध या धोके से होने की सम्भावना अधिक होती है, इसके साथ ही यह चिन्ह पति के खराब स्वास्थ का संकेत माना जाता है.

3. जब किसी व्यक्ति की विवाह रेखा नीचे झुकी होती है, व ह्रदय रेखा को काटकर नीचे की ओर चली जाती है, तो ऐसे व्यक्तियों के जीवन साथी की आयु बहुत कम हो सकती है.

4. जिस व्यक्ति की विवाह रेखा लंबी होती है और वह सूर्य पर्वत तक पहुँचती है, तो ऐसी रेखा वाला व्यक्ति बहुत भाग्यशाली होता है. क्योंकि यह रेखा उसके सफल वैवाहिक जीवन और समृद्ध व संपन्न जीवनसाथी मिलने का संकेत होती है.

5. जिन व्यक्तियों की विवाह रेखा अपने अंत में सांप की जीभ की भाँती दो भागों में विभाजित होती है तो ऐसे व्यक्तयों के वैवाहिक जीवन में वैचारिक मतभेद अधिक उत्पन्न होता है.

Facebook Comments