मां की मौत के बाद शुरू हुआ अत्याचार,पिता पर चाइल्ड ट्रैफिकिंग का भी आरोप लगाया

10 साल की बच्ची को उसकी सौतेली मां ने बेच दिया। इसके बाद उसे चार बार और बेचा गया। वह कोलकाता, चंडीगढ़, जोधपुर और जयपुर समेत कई स्थानों पर ले जाई गई। कई बार अलग-अलग स्थानों से बच्ची को बरामद किया गया, लेकिन उसकी आपबीती किसी ने नहीं पूछी।

जयपुर से तीन माह पहले उसे गाजियाबाद की बाल कल्याण समिति के सुपुर्द किया गया। बच्ची की काउंसिलिंग में कुछ पता नहीं चला, लेकिन मंगलवार को 60 वर्षीय पिता और 25 वर्षीय सौतेली मां को देख बच्ची डर गई और रोने लगी।

सीडब्ल्यूसी की सदस्य शालिनी ने बताया कि बच्ची की मां की सात साल पहले मौत हो गई। चार साल पहले पिता ने दूसरी शादी कर ली। आरोप है कि सौतेली मां ने उससे घर का काम कराने के साथ ही पीटना भी शुरू कर दिया। पिता ने भी मां के कहने पर चिमटे और बीड़ी से बच्ची को जलाया। सौतेली मां ने एक साल पहले उसे कोलकाता के एक व्यक्ति को बेच दिया।

इसके बाद उसे चंडीगढ़, जोधपुर और जयपुर ले जाया गया। जयपुर से तीन माह पहले उसे पुलिस ने रेलवे स्टेशन से बरामद कर सीडब्ल्यूसी को सौंपा। वहां से गाजियाबाद की समिति की सुपुर्दगी में दिया गया। बच्ची के साथ गलत काम भी हुआ है। काउंसिलिंग रिपोर्ट में बच्ची ने अपने पिता पर चाइल्ड ट्रैफिकिंग का भी आरोप लगाया है। लोनी एसएचओ ने बताया कि तहरीर मंगाई गई है। इसमें लगाए गए आरोपों की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Facebook Comments