Health : अलसी के एक नहीं फायदे हैं अनेक, डायबिटीज-कैंसर से लेकर दिल तक की बीमारियों में है कारगर

बीमारी कभी किसी को कह कर नहीं आती। अक्सर ऐसा देखा जाता है जब लोगों के इसका पता चलता है तबतक काफी देर हो चुका होता है। ऐसे में हम अपने खानपान और रहन-सहन के तरीके को ठीककर इससे दूर रह सकते हैं। वहीं कई ऐसे घरेलू नुस्खे भी है जिसके इस्तेमाल में आप ना सिर्फ बीमारियों से दूर रह सकते हैं बल्कि बीमारियों को ठीक भी कर सकते हैं। ऐसे ही एक है अलसी का बीज। इनमें विटामिन बी-1, प्रोटीन, तांबा, मैंगनीज, ओमेगा-3 एसिड, लिगनन समेत कई माइक्रो न्यूट्रिएंट भरपूर मात्रा में होती है। इन्ही गुणों के कारण असली के बीज को चमत्कारी बीज भी कहा जाता है। इतना ही नहीं इसे वेजिटेरियन का फिश भी कहा जाता है।

अलसी एक, फायदे अनेक…

डायबिटीज– अलसी के बीज में ओमेगा फैटी एसिड और फाइबर की भरपूर मात्रा होती है। इसके नियमित सेवन से डायबिटीज, कैंसर, हार्ट संबंधित बीमारियों का खतरा बहुत हद तक कम हो जाता है

ब्लड शुगर– अलसी बीज खाने से ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है। इसमें मौजूद लिंगनन पोषक तत्व ब्लड शुगर को कंट्रोल रखता है।

वजन– अलसी के बीज खाने से वजन नियंत्रित रहता है।

कोलेस्ट्रॉल– अलसी के बीज के सेवन से कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है। ये ओमेगा एसिड कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखता है।

हार्ट प्रॉब्लम– अलसी में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 मौजूद होत है जो फैटी एसिड हार्ट सिस्टम को स्मूद करता है। इसके नियमित सेवन से हार्ट बीट नॉर्मल रहता है।
ब्लड प्रेशर – अलसी के बीज के नियमित सेवन से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। अगर आपका हार्ट सिस्टम स्मूद है और ब्लड प्रेशर कंट्रोल में है तो आपको हार्ट संबंधी प्रॉब्लम कभी नहीं होगी।

रेडिएशन– रिसर्च के मुताबिक अलसी का बीज बॉडी टिश्यू को रेडिएशन से बचाता है। अलसी के बीज का इस्तेमाल एंटी ऑक्सिडेंट फूड के तौर पर भी किया जाता है।

ब्रेस्ट कैंसर– अलसी के बीच को नियमित सेवन से ब्रेस्ट कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर की संभावना कम हो जाती है। इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में होता है, जो ट्यूमर को बढ़ने से रोकता है। रिसर्च से मिले आंकड के मुताबिक ओमेगा-3 फैटी एसिड नुकसान पहुंचाने वाली बॉडी सेल को दूसरे सेल से चिपकने से रोकता है। अलसी के बीज में मौजूद लिगनन ट्यूमर को काम करने से रोकता है। इसकी वजह से ट्यूमर नया ब्लड नहीं बना पाता है।

पीरियड्स– रिसर्च के मुताबिक जो महिलाएं अलसी के बीज का सेवन करती हैं उन्हें पीरियड्स में गड़बड़ी का सामना नहीं करना पड़ता है। स्टडी के मुताबिक जैसे हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी काम करती है, अलसी के बीज भी उसी तरह का असर दिखाता है।

कब्ज– अलसी के बीज का सेवन से कब्ज की समस्या जड़ से दूर हो जाती है।

Facebook Comments