कंडोम की वजह से 30 साल बाद बच्ची का रेपिस्ट व हत्यारोपी पहुंचा जेल

अमरीका में एक बच्ची की बलात्कार के बाद हुई हत्या  की गुत्थी पुलिस ने 30 साल बाद सुलझा ली है। खास बात यह है कि इस मामले में पुलिस ने कंडोम की जांच के बाद जुटाए गए डीएनए से 30 साल बाद हत्यारोपी जॉन मिलर (59) को गिरफ्तार किया है।  कंडोम के सहारे इतने लंबे समय की जांच के बाद पुलिस की सफलता हैरान करने वाली है।  1988 में जब घटना हुई, तब बच्ची उस वक्त 8 साल की थी।
PunjabKesari
बच्ची की लाश फोर्ट वायने स्थित घर के पास बरामद हुई थी।  वाशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक संदेह के घेरे में आए आरोपी के घर के पास से 2004 में प्रयोग हो चुके कंडोम बरामद हुए थे। जिससे पुलिस ने डीएनए हासिल किया तो उसका नमूना बच्ची के कपड़े से जुटाए गए डीएनए के नमूने से मैच कर गया। कंडोम से मिले डीएनए के आधार पर रिसर्चर ने जॉन मिलर और उसके भाई पर बलात्कार तथा हत्या में शामिल होने का संदेह व्यक्त किया।
PunjabKesari
रिपोर्ट के मुताबिक जॉन मिलर के कुल तीन इस्तेमाल हुए कंडोम बच्ची के जेनेटिक प्रोफाइल से मैच हो गए। कोर्ट में सुनवाई के दौरान आरोपी ने अपने खिलाफ लगे आरोपों को स्वीकार कर लिया। सुनवाई के दौरान बच्ची के परिवार के लोग भावुक हो उठे थे। दरअसल जब बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या हुई थी तो उसकी अंडरवियर कब्जे में लेकर आरोपी के डीएनए जुटाए थे।

Facebook Comments