मात्र 50 हजार लगाकर शुरू करें कूलर बनाने की फैक्ट्री….

सबसे खास बात ये है कि आपको इसके लिए 90 पर्सेंट तक लोन भी मिल जाएगा और कमाई भी तुरंत शुरू हो जाएगी। कूलर का बिजनेस करना गर्मियों में काफी फायदेमंद साबित होता है। खासकर गली मोहल्ले में बिजली की दुकानों में इन दिनों आपको कूलरों की भरमार देखने को मिलेगी।

ऐसे में अगर आप खुद की कूलर फैक्ट्री शुरू कर लें तो अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। इस बिजनेस में संभावनाओं को देखते हुए खुद सरकार भी आपको आसानी से लोन दिलवाने में मदद करेगी। इसके लिए सबसे पहले आपको जरूरत होगी एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने की और उसके बाद प्रधानमंत्री रोजगार योजना या मुद्रा स्कीम के तहत लोन अप्लाई कर दें। दोनों ही मामलों में आपको 90 प्रतिशत तक लोन मिल जाएगा।

कैसे करें शुरुआत: सबसे पहले आपको लोन लेने के लिए एक प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट तैयार करनी होगी। प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत सरकार ने कुछ प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल तैयार किए हैं। अगर इसी प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट को आधार बनाएं तो कैपिटल एक्‍सपेंडिचर पर 1.5 लाख और वर्किंग कैपिटल पर 3 लाख 20 हजार रुपए खर्च का अनुमान लगाना होगा। यानी आपके आपके प्रोजेक्‍ट की कीमत 4 लाख 70 हजार रुपए होगी। इसमें से आपको 47 हजार रुपए का इंतजाम करना होगा, बाकी बचे 90 फीसदी के लिए आपको लोन अप्‍लाई करना होगा।

कितने कूलर होंगे तैयार: जिस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट को आप तैयार करेंगे, उसमें आपको बताना होगा कि आप सबसे पहले 700-800 कूलर तैयार करेंगे। हालांकि जैसे-जैसे कूलर तैयार होंगे, आपको उन्‍हें मार्केट में सेल्‍स के लिए भेजना होगा। इससे आपकी इनकम भी साथ के साथ होने लगेगी, ताकि आप कच्चा माल भी खरीदते रहें।

कैसे मिलेगा लोन : इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के आधार पर आप अपने जिले के जिला उद्योग केंद्र में लोन के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं।

कितनी होगी कमाई : प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, आपके 800 कूलर बनाने का कुल खर्च लगभग 19 लाख 36 हजार रुपए आएगा और इन कूलर को अगर आप अगले 3 महीने में बेच देते हैं (डिमांड को देखते हुए जिसकी पूरी संभावना है) तो आपको लगभग 21 लाख रुपए की सेल्‍स होगी यानी आप को लगभग 1 लाख 64 हजार रुपए की आराम से आमदनी हो जाएगी। और अगर ऐसे में आप 800 से ज्यादा कूलर बनाते हैं तो आपकी आमदनी और ज्यादा बढ़ जाएगी।

Facebook Comments