खुले में शौच करने वालों से 12000 रुपये तक का हर्जाना, यूपी में जारी हुआ….

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में जिला पंचायती राज अधिकारी ने खुले में शौच करने को लेकर तुगलकी फरमान दे दिया जिससे लोग हैरान हैं। दरअसल सहारनपुर के DPRO सतीश कुमार ने खुले में शौच करने वालों के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज करने का आदेश जारी किया है।

सतीश कुमार के आदेश के मुताबिक, अब से सहारनपुर में खुले में शौच करने वालों के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र रचने जैसी धाराओं में केस दर्ज किए जाएंगे।

 

उन्होंने आदेश दिया है कि जिन लोगों के घरों में सरकारी अनुदान पर शौचालय बने हैं, उन घरों का कोई सदस्य यदि खुले में शौच करता पकड़ा जाता है तो उससे 12 हजार रुपये तक का हर्जाना वसूला जाएगा।

सहारनपुर के डीपीआरओ सतीश कुमार का कहना है कि कुछ लोग स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश को खुले में शौच मुक्त करने की योजना को पटरी से उतारने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि उनके खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएं।
सतीश कुमार ने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त धाराओं में केस दर्ज करने का आदेश इसलिए दिया गया है, क्योंकि वे सरकारी अधिकारियों को अपना कर्तव्य पालन करने में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं।

 

 

सतीश कुमार के आदेश के मुताबिक, अब से जिले में खुले में शौच करते पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 120ए, 186 और 269 के तहत केस दर्ज किए जाएंगे।

 

Facebook Comments