मालगाड़ी से कट कर दो हिस्सों में बंटा ऑटोचालक, छुआ तो धड़ उठकर बोला- ‘मालीवाडा का संजू हूं’

सोमवार सुबह एक युवक ने मालगाड़ी के आगे कूद कर खुदकुशी कर ली। शरीर दो हिस्सों में बंट गया। घटना की जानकारी मिलने पर रेलवे पुलिस सहायक संजय वसंत तिरगी रेस्क्यू के लिए पहुंचे और उन्होंने युवक के धड़ को छुआ तो धड़ हाथों का सहारा लेकर उठा और बोला- मैं मालीवाड़ा का संजू हूं। पुलिसकर्मी ने कहा-मैंने अपने जीवन में ऐसी पहली घटना देखी है।

आपको बता दें कि ये वारदात महाराष्ट्र में नंदूरबार रेलवे स्टेशन की है। खुद को नंदूरबार का निवासी बताया। लेकिन पुलिस ने ज्यादा जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करती उससे पहले उसने दम तोड़ दिया। युवक की पहचान नंदूरबार निवासी संजय नामदेव मराठे (30) के रूप में हुई है। वह ऑटो चलाता था, लेकिन फिलहाल संजय के खुदकुशी करने की वजह साफ नहीं हुई है।

बता दें कि घटना की जानकारी मिलने पर रेलवे पुलिस सहायक संजय वसंत तिरगी रेस्क्यू के लिए पहुंचे। देखा कि युवक रेलवे ट्रैक पर पड़ा था। गुड्स ट्रेन ऊपर से गुजरने की वजह से उसका शरीर दो हिस्सों में कट चुका था। हाथ में हलचल महसूस होने पर मैंने धड़ के हिस्से को उठाने का प्रयास किया तो उसने आंखें खोलीं। मैंने नाम पूछा, तो बोला-‘मालीवाडा का संजू हूं’। इसके 10 मिनट बाद उसकी सांसें थम गईं। मैंने अपने जीवन में ऐसी पहली घटना देखी है।

Facebook Comments