घर पहुंचकर जब महिला के प्राइवेट पार्ट में दर्द और खून मिला तब उसे समझ आया उसके साथ डॉक्टरों ने क्या किया है

पाकिस्तान में एक महिला ने सर्जरी के दौरान रे’प का शिकार बनाए जाने का आरोप लगाया है। 35 साल की महिला पाइल्स के मामूली से ऑपरेशन के लिए लाहौर के सर्विस हॉस्पिटल में शुक्रवार को एडमिट हुई थी और 8 घंटे के ऑपरेशन के बाद उसे शाम को ही डिस्चार्ज भी कर दिया गया। 

सर्जरी के बाद जब उसे होश आया तो वो भयानक दर्द में थी और यूरिनरी से ब्लीडिंग हो रही थी। तब उसे अपने साथ रे’प किए जाने का अहसास हुआ। टेस्ट में ये बात कंफर्म भी हो गई, जिसके बाद उसने मामले की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई है। महिला ने बताया कि उसे 24 नवंबर को हॉस्पिटल में सर्जरी के लिए एडमिट कराया गया था। एनस्थीसिया देकर सर्जरी के लिए करीब 8 घंटे वो ऑपरेशन थिएटर में बंद रही। फिर उसी दिन शाम को उसे डिस्चार्ज भी कर दिया गया। घर पहुंचने के बाद जब एनस्थीसिया का असर कम हुआ और वो थोड़ा होश में आई, तो उसे पूरा मामला समझ आया।

उसने बताया कि एनस्थीसिया का असर कम होते हुए प्राइवेट पार्ट में भयानक दर्द होने लगा और यूरिनरी ट्रैक्ट से भयानक ब्लीडिंग होने लगी। तब उसे अहसास हुआ कि ऑपरेशन के दौरान उसका रे’प किया गया। महिला के मुताबिक, रात में दर्द जब बहुत ज्यादा बढ़ गया तो उसकी बहन उसे लेकर शेख जाएद हॉस्पिटल गई, जहां मेडिकल टेस्ट में रे’प की बात कंफर्म हो गई। इसके बाद महिला ने लाहौर के एक पुलिस स्टेशन में चश्मदीद के स्टेटमेंट के साथ हॉस्पिटल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई और पूरा मामला बताया।

पंजाब की हेल्थ मिनिस्टर डॉ. यास्मिन राशिद ने कहा कि सर्जरी के दौरान रे’प का मामला बेहद गंभीर है। इसकी जांच के लिए तीन लोगों की इन्क्वायरी कमेटी बनाई गई है। महिला का डीएनए सैम्पल लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

Facebook Comments