जानिये आखिर क्यों खजूर खाकर खोला जाता है रोजा…..

इस्लाम धर्म के लोग रमजान के पाक महीने में रोजा रखते हैं और रोजा खोलने के लिए वह सबसे पहले खजूर का सेवन करते हैं।मुस्लिम सुबह सहरी खाने के बाद दिनभर बिना कुछ खाए-पिए रोजा रहते हैं। फिर शाम की नमाज पढ़ने के बाद रोजा खोलने के लिए ज्यादातर लोग सबसे पहले खजूर खाते हैं।

खजूर खाकर रोजा खोलने के पीछे कोई धार्मिक कारण नहीं बल्कि स्वास्थ्य से जुड़ा कारण है। दरअसल दिनभर खाली पेट रहने के बाद डायरेक्ट पकवान खाने से तबीयत बिगड़ सकती है। ऐसे में खजूर शरीर के पोषक तत्वों को तुरंत पूरा करने में सहायक होता है। साथ ही यह पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाता है। इन्हीं फायदों को देखते हुए खजूर खाकर रोजा खोला जाता है

खजूर खाने से शरीर को इंस्टेंट एनर्जी मिलती है। खाली पेट खजूर खाने से शरीर को नुकसान नहीं पहुंचता और यह सेहत के लिए लाभदायक होता है। खजूर में पर्याप्त मात्रा में विटामिंस और मिनरल्स पाए जाते हैं। खजूर के सेवन से नर्वस सिस्टम मजबूत होता है। खजूर में फ्लोरीन नाम का तत्व पाया जाता है, जिससे दांतों में कैविटी नहीं होती है। खजूर खाने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

Facebook Comments