बड़ी खबर : सबरीमलाः केरल में विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा, एक की मौत

सबरीमला मंदिर में बुधवार को 50 साल की उम्र से कम दो महिलाओं के प्रवेश के बाद केरल में हिंसक विरोध प्रदर्शन जारी हैं. सबरीमला कर्म समिति ने केरल बंद बुलाया है और तमिलनाडु से केरल में प्रवेश करने वाली सभी सरकारी बसों को रोका जा रहा है.

प्रदर्शन के दौरान सबरीमला कर्म समिति और सीपीएम समर्थकों के बीच पंडालम में हुई झड़प में 54 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई है. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में ले लिया है.

चंद्रन उन्नीथन नामक शख़्स को बुधवार देर रात जख़्मी हालत में अस्पताल लाया गया जहां कई गहरी चोटों के कारण उसकी मौत हो गई. पतनमतिट्टा के पुलिस अधिकारी टी नारायण ने बीबीसी हिंदी से बता करते हुए कहा, ” हमने दो लोगों को हिरासत में लिया है.एकबार हमारी जांच पूरी हो जाएगी तो हम इनकी औपचारिक गिरफ़्तारी करेंगे. हमें अभी इस बात की जानकारी नहीं है कि ये कर्म समिति के समर्थक हैं या नहीं. ”

केरल में हिंदू संगठन कर्म समिति के सैकड़ों समर्थक सड़कों पर मंदिर में दोनों महिलाओं के प्रवेश के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं. ये विरोध प्रदर्शन अब हिंसा में तब्दील हो चुका है. मंदिर में प्रवेश के दौरान पुलिस सुरक्षा देने को लेकर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन की बीजेपी और कांग्रेस आलोचना कर रही हैं.

पिनराई विजयन ने इस घटना पर कहा, ” महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश बतौर श्रद्धालु किया ना कि सरकारी अधिकारी के तौर पर. ये सरकार का दायित्व है कि उन्हें सुरक्षा दी जाए. हमें सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि महिलाओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाए. बीजेपी हमें आदेश का पालन करने से रोक रही है. ये सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले के ख़िलाफ़ है. ”

कर्म समिति ने केरल में आज सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक बंद का ऐलान किया है. राज्य में स्वास्थ्य सेवा और दूध की सप्लाई के अलावा लगभग बंद जैसी स्थिति है. पुलिस का मानना है कि आज हिंसा की वारदातें बढ़ सकती है और कई गिरफ़्तारियां संभव हैं.

कल राज्य में हुई हिंसा में अब तक कुल कितनी गिरफ़्तारियां हुई हैं इसे लेकर पुलिस आंकड़े जुटा रही है. तिरुवनंतपुरम की पुलिस का कहना है, ”बुधवार को हुई हिंसा हमें अबतक राज्य में कितनी गिरफ़्तारियां हुई इसका सही आंकड़ा आना बाकी है. ”

Facebook Comments