ध्यान रखें…ATM मशीन में चेंज से खराब हो सकता है आपका डेबिट कार्ड, बरतें ये सावधानी

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के आदेश के बाद देश के सभी सरकारी और प्राइवेट बैंकों ने सुरक्षा कारणों से EMV चिप वाले डेबिट कार्ड जारी कर दिए हैं.

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के आदेश के बाद देश के सभी सरकारी और प्राइवेट बैंकों ने सुरक्षा कारणों से EMV चिप वाले डेबिट कार्ड जारी कर दिए हैं. अभी तक कस्टमर्स के पास ईवीएम चिप के साथ ही मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले डेबिट कार्ड भी था. लेकिन अब आरबीआई के निर्देश के बाद अधिकतर कस्टमर का कार्ड अपडेट हो चुका है. लेकिन नए कार्ड के अनुरूप एटीएम मशीन में हुए बदलाव से ग्राहक अलग ही समस्या का सामना करना पड़ रहा है. दरअसल एटीएम मशीन में हुए बदलाव के बाद कई लोगों के कार्ड खराब होने की खबर है.

जोर लगाने पर डैमेज हो सकता है कार्ड
नई मशीन में ट्रांजेक्शन करने के लिए आप जैसे ही एटीएम में डेबिट कार्ड इनसर्ट करते हैं तो यह लॉक हो जाता है. लेकिन इससे पहले ऐसा नहीं होता था, लोग पुरानी आदत के अनुरूप ही एटीएम कार्ड को बाहर की तरफ खींचने लगते हैं. कई बार ग्राहक यह समझकर जोर से कार्ड को खींच देता है कि कोई गलती हो गई है. ऐसा में आप जोर लगाकर कार्ड बाहर की तरफ निकालते हैं तो कार्ड डैमेज हो जाता है.

पुराने एटीएम कार्ड में भी परेशानी की खबर
जबकि नए बदलाव के बाद आपका कार्ड तक तक लॉक रहता है जब तक आपका लेनदेन पूरा नहीं हो जाता. हालांकि, इस अपडेट को लेकर बैंकों ने एटीएम मशीनों की स्क्रीन केबिन में यह मैसेज दिया हुआ है कि कार्ड मशीन में डालने के बाद तुरंत न निकालें. हालांकि पुराने एटीएम कार्ड्स में भी परेशानी की खबर है.

नए EVM चिप वाले डेबिट या क्रेडिट कार्ड मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हैं. इस चिप में आपके खाते की पूरी जानकारी सुरक्षित रहती है. यह जानकारी इनक्रिप्टेड होती है, ताकि कोई इस डाटा की चोरी न कर सके. EMV चिप कार्ड में ट्रांजेक्शन के दौरान यूजर को सत्‍यापित करने के लिए एक यूनिक ट्रांजेक्‍शन कोड जेनरेट होता है, जो वेरिफिकेशन को सर्पोट करता है.

Facebook Comments