सुरेंद्र दास का ऑपरेशन सफल, देखने पहुंचे डीजीपी ओपी सिंह

बीते मंगलवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खाने वाले कानपुर के एसपी पूर्वी पद पर तैनात IPS अधिकारी सुरेंद्र दास का ऑपरेशन सफल हो गया है। उनके पैर पर जमा खून का थक्का डॉक्टरों ने निकाल लिया है। हालांकि ऑपरेशन का असर 8 घंटे बाद पता चलेगा। उधर, उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह सुरेंद्र दास को देखने रीजेंसी अस्पताल पहुंच गए है।

आपको बता दें कि शनिवार की दोपहर सुरेंद्र दास की हालत ज्यादा खराब हो गई थी। उनके शरीर के कई अंगो ने काम करना बंद कर दिया था, जिसके डॉक्टरों ने उनका ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के लिए डॉक्टरों ने आईसीयू वार्ड को ही ऑपरेशन थियेटर बना दिया था। सुरेंद्र दास के पैर में खून का थक्का बन जम गया था जिसकी वजह से उनके पैरों में बल्ड की सप्लाई नहीं हो पा रही थी। डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर उनके पैर में जमा खून का थक्का निकाल दिया है।

पत्नी रवीना के परिजन डटे, बलिया से भी पहुंचे रिश्तेदार
सुरेंद्र दास की पत्नी डॉ. रवीना के परिजन शुक्रवार को पूरा दिन अस्पताल में डटे रहे। हर पल की जानकारी लेते रहे। एसपी पूर्वी की मां इंदूदेवी और भाई नरेंद्र दास भी मौजूद रहे। लॉबी में उनसे बातचीत करने पर उन्होंने भावुक होकर भाई की लंबी उम्र के लिए दुआ करने की अपील की। हालांकि और कुछ भी बात करने से इनकार कर दिया। बलिया और लखनऊ से सुरेंद्र दास के करीबी और कई रिश्तेदार भी रीजेंसी अस्पताल पहुंचे।

दोस्त की जिंदगी बचाने के लिए 16 आईपीएस अफसर कर दिन रात जद्दोजहद
बैचमेट IPS अधिकारी सुरेंद्र दास को बचाने के लिए 16 आईपीएस अफसर दिन रात जद्दोजहद कर रहे हैं। यूपी, दिल्ली में एक्मो मशीन नहीं मिली तो छह साथियों ने मशक्कत की और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की मदद से मुंबई से मशीन और डॉक्टरों की टीम चार्टर प्लेन से बुलाई गई। रीजेंसी के डॉक्टरों ने बताया कि विदेश के भी किसी हॉस्पिटल में सुरेंद्र को इलाज के लिए भर्ती कराते तो इसी तरह से इलाज किया जाता। इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता है।

Facebook Comments