आपकी एक लापरवाही आपके बच्चे को बना सकती है डायबिटीज का शिकार,जानिये कैसे…

कई बार ऐसा होता है कि अपने बच्चों की कुछ आदतों को हमलोग इसलिए अनदेखा कर देते हैं क्योंकि हमे लगता है कि वह समय के साथ ठीक हो जाएगा लेकिन आपको बता दें कि ये डाबिटीज के लक्षण हो सकते हैं। आपकी लापरवाही आपके बच्चे को भी डायबिटीज का शिकार कर सकती है।

कई बार ऐसा होता है कि अपने बच्चों की कुछ आदतों को हमलोग इसलिए अनदेखा कर देते हैं क्योंकि हमे लगता है कि वह समय के साथ ठीक हो जाएगा लेकिन आपको बता दें कि ये डाबिटीज के लक्षण हो सकते हैं।

इन दिनों डायबिटीज ऐसी सामान्य बीमारी बन चुकी है, जो किसी को भी हो सकती है। बच्चों से लेकर बूढ़े तक कोई भी डायबिटीज का शिकार हो सकता है। दरअसल, शरीर के अंदर बीटा-कोशिकाओं के खत्म होने के कारण बॉडी में इंसुलिन बनना बंद हो जाता है, जिसके कारण शुगर लेवल बढ़ने लगता है, जिसे डायबिटीज कहते हैं।

बीमारी कोई भी हो अगर उसके बारे में पहले से पता चल जाए तो काफी हद तक बीमारी को खत्म किया जा सकता है। ऐसे में अगर बात की जाए बच्चों में डायबिटीज की तो बच्चों में यह लक्षण नजर आने पर निश्चित किया जा सकता है कि उसे डायबिटीज है।

बच्चों में डायबिटीज के लक्षण

शुगर लेवल बढ़ने पर बार-बार प्यास लगना

शुगर लेवल बढ़ने पर बार-बार पेशाब आना

बार-बार भूख लगना

खाना खाने के बाद शरीर में सुस्ती लगना

खाना खाने के बावजूद वजन न बढ़ना

बच्चे का थका-थका महसूस करना

डायपर पहनने मात्र से घाव हो जाना

 

रखें इन बातों का ध्यान

बच्चों का समय-समय पर ब्लड शुगर टेस्ट करवाएं और उस हिसाब से इंसुलिन दिलवाते रहें।

बच्चों को समय से खाना खिलाएं और उनकी डायट में ज्यादा से ज्याजा पौष्टिक आहार शामिल करें।

बच्चों को नियमित व्यायाम कराने की कोशिश करें।

 

Facebook Comments