पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग लगी हुई है,तोडा 4 सालों का रिकॉर्ड….

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में मानो आग लगी हुई है।सोमवार को भी पेट्रोल और डीजल के भाव 10 पैसे प्रति लीटर चढ़ गए। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन की  के मुताबिक, दिल्ली में सोमवार सुबह 6 बजे पेट्रोल की कीमत 74.63 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई। डीजल की कीमत 65.75 रुपये प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई। इससे पहले 14 सितंबर 2013 को पेट्रोल 76.06 रुपये प्रति लीटर था| ऑयल एंड एनर्जी की कीमत और अन्य विवरण देखें दिल्ली में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रविवार को 19  पैसों का इज़ाफ़ा हुआ है।

सार्वजनिक तेल विपणन कंपनियां पिछले साल जून से रोजाना पेट्रोल-डीजल की कीमतें संशोधित कर रही हैं। कुछ दिन पहले जारी अधिसूचना के अनुसार पेट्रोल-डीजल की कीमतें 19-19 पैसे प्रति लीटर बढ़ा दी गयी हैं।

 

अधिसूचना में कहा गया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमतें बढ़ने से घरेलू बाजार में भी वृद्धि करनी पड़ी है। इससे पहले कल भी पेट्रोल की कीमतें 13 पैसे प्रति लीटर तथा डीजल की कीमतें 15 पैसे प्रति लीटर बढ़ायी गयी थीं। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने नवंबर 2014 से जनवरी 2016 के बीच उत्पाद शुल्क में नौ बार बढ़ोत्तरी की। उत्पाद शुल्क में महज एक बार पिछले साल अक्तूबर में दो रुपये प्रति लीटर की कटौती की गयी।

आंकड़ो पर अगर गौर किया जाए तो बीजेपी की सरकार आने के बाद से पेट्रेल और डीजल की ये अबतक सबसे ज्यादा कीमत है। डीजल की कीमतें 19-19 पैसे प्रति लीटर बढ़ा दी गयी हैं। एक नोटिफिकेशन जारी किया गया है जिसमें ये कहा गया कि इंटरनेशनल मार्केट में कच्चा तेल (क्रूड) लगातार महंगा हो रहा है और भारत अपनी जरुरत का 80 फीसदी कच्चा तेल विदेशी कंपनियों से खरीदता है। ऐसे में महंगे कच्चे तेल से घरेलू कंपनियों की लागत बढ़ जाती है। ऐसे में कंपनियां घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा देती है।

 

Facebook Comments